पशुपालन से महिलाएं बन सकती है आत्मनिर्भर

पौड़ी : नेहरू युवा केन्द्र, पौड़ी गढ़वाल (युवा कार्यक्रम एव खेल मंत्रालय, भारत सरकार) द्वारा ब्लाक सभागार ,खिर्सू मे पड़ोस युवा संसद कार्यक्रम पर एक दिवसीय कार्यशाला आयोजित की गई।

कार्यक्रम मे वक्ता के रूप मे पशु चिकित्सक डा अजीत प्रताप सिह ने युवाओ को पशुपालन पर चर्चा करते हुऐ कहा कि जिस प्रकार मनुष्यो के लिए स्वच्छता बहुत जरूरी है उसी प्रकार पशुओ के लिए स्वच्छता जरूरी है विशेष रूप से गाय का दूघ निकालते समय सफाइ का विशेष ध्यान रखना चाहिए क्यूकि हाथो से बैक्टीरिया गाय के थानो के रासते उसके शिरिर मे पहूच जाता है। पशुपालन भी स्वरोजगार का एक अच्छा साधन है जिससे महिलाएं आर्थिकी को मजबूत कर आत्मनिर्भर बन सकती है।

कार्यक्रम मे नेहरू युवा केन्द्र के जिला युवा समन्वयक शैलेश भट्ट ने युवा मण्डल के सदस्यो के मघ्य चर्चा करते हुए कहा कि युवाओं की सोच होनी चाहिए कि क्या मेरा गांव एक आर्दश गांव है या नही गांव की मूलभूत आवश्यकतएंे पूरी हुई या नही यदि कोई कार्य शेष है तो उसकी कार्ययोजना बना कर पंचायत की बैठक मे रखें ताकि गांव का पूर्ण विकास हो सके तथा साथ ही कहा कि इन कार्यशालाओं के माघ्यम से सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का प्रचार प्रसार कर युवाओं को जागृत करना है गंाव के अन्तिम व्यक्ति तक सरकार की योजनाओ का लाभ पहुचंे।

कार्यक्रम मे ए॰एन॰एम॰टी॰सी॰ खिर्सू की प्रभारी शिवानी चैहान ने कहा कि युवाओ के अंदर असीमित शक्ति और क्षमता होती है जिसका अधिकांश युवाओं को ज्ञान ही नही होता है। अपने अंदर विघमान कौशल को निखार कर युवा स्वंय के निर्माण मे अपनी भूमिका निभा सकता है। प्रशिक्ष्ेाक योगम्बर पोली ने कार्यक्रम का संचालन करते हुए बेटियो को भी समान अवसर दिए जाने की बात की, साथ ही घटते लिंगानुपात पर चर्चा करते हुए कहा कि समाज का संतुलन बनायंे रखने के लिए कन्या भ्रुण हत्या पर पूर्णतः रोक लगनी चाहिए। साथ ही “बेटा बेटा क्यों चाहिए बेटा“ गीत के माध्यम से बेटी बचाओं बेटी पढाओं का संदेश दिया।

कार्यशाला मे युवा मण्डलों से आये युवाओं कु॰संतोषी, कु॰मनीषा, कु॰किरन तथा पंकज नेगी ने युवाओं की भूमिका पर अपनी विचार प्रस्तुत किये। कार्यक्रम मे नेहरू युवा केन्द्र के राष्ट्रीय युवा स्वंयसेवी अंकित कुमार, वंदना, निशा, शालिनी आदि उपस्थित रहे।

   

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *