बारिश के कारण टूटा पुल, खाई में गिरीं कई कारें

जूनागढ़( गुजरात): जूनागढ़ के मलंका गांव में एक पुल टूटने से भीषण हादसा हो गया। इस हादसे में अभी तक किसी भी तरह के जानमाल के नुकसान की खबर नहीं है। फिलहाल हादसे का मुख्य कारण नहीं पता चल सका है, लेकिन माना जा रहा है कि भारी बारिश के चलते पुल टूट गया। समाचार एजेंसी एएनआइ के अनुसार इस हादसे में कई कारें क्षतिग्रस्त हो गई हैं।

पुल ढहने से अब तक किसी भी तरह के जानमाल के नुकसान की खबर नहीं है। दुर्घटना के बाद स्थानीय लोगों और पुलिस ने पुल में फंसे लोगों को बाहर निकाला और अस्पताल पहुंचाया। पुल के ढहने से 500 मीटर तक सड़क में दरार आ गई है।

बताया जा रहा है कि इस बार की अधिक बारिश की वजह से पुल के नीचे की जमीन खाली हो गई थी, जिसके चलते पुल ढह गया। नदी के बीचोबीच पुल टूटकर गिरा। जिस वक्त यह हादसा हुआ उस समय पुल से कुछ गाड़ियां गुजर रही थीं। घटना के समय पुल के पास के खेत में काम कर रहे लोगों ने पुल के ढहने की आवाज सुनकर घटनास्थल पर पहुंचे। इसके बाद मामले की जानकारी पुलिस को दी गई और पुलिस वहां पहुंचकर फंसे घायलों को निकाला।

वहीं जूनागढ़ के कलेक्टर सौरभ पारधी ने बताया कि रविवार की शाम को मलांका गांव के पास पुल का स्लैब गिरने से कुछ वाहन उसके मलबे के नीचे दब गए थे। इससे इलाके में यातायात भी बाधित हुआ। उन्होंने कहा कि यह पुल सासन-गिर को जूनागढ़ के महेंद्रा कस्बे से जोड़ता है। सासन-गिर में वन्यजीव अभयारण्य स्थित है।

यह पुल करीब 40 साल पहले मलांका गांव के पास बना था। पारधी ने कहा कि रविवार को पुल ढहने से चार लोगों को मामूली चोट आई है। पुल ढहने से सासन-गिर और महेंद्रा के बीच वाहनों की आवाजाही बाधित हुई है। कलेक्टर ने कहा कि यात्रियों के लिए एक दूसरे मार्ग खोला गया है। उन्होंने कहा कि दो कार और तीन दो पहिया वाहन पुल के मलबे में दब गए थे जिन्हें बाद में निकाला गया था।

हादसे के बाद स्थानीय ग्रामीणों ने लोगों को बाहर निकाला। पुलिस भी मौके पर पहुंची और घायल लोगों को अस्पताल पहुंचाया गया। बताया जा रहा है कि मूसलाधार बारिश की वजह से पुल के नीचे की जमीन खिसक गई थी, जिसके चलते पुल ढह गया। पुल के ढहने से 500 मीटर तक सड़क में दरार आ गई है।

जिस वक्त यह हादसा हुआ उस समय पुल से कुछ वाहन गुजर रहे थे, जो हादसे का शिकार हो गए। पुल टूटने के बाद वाहनों में सवार लोगों की सांसे अटकी रही। पुल के आसपास खेतों में काम कर रहे लोग आवाज सुनकर मौके पर पहुंचे और पुलिस को इसकी जानकारी दी। इसके बाद पुलिस और स्थानीय लोगों ने घायलों को अस्पताल पहुंचाया। इस हादसे के बाद रास्ता बंद हो गया है और वाहनों को दूसरे रास्ते से जाना पड़ रहा है।

जूनागढ़ के कलेक्टर सौरभ पारधी ने बताया कि रविवार की शाम को मलांका गांव के पास पुल का स्लैब गिरने से कुछ वाहन उसके मलबे के नीचे दब गए थे। इससे इलाके में यातायात भी बाधित हुआ।

उन्होंने कहा कि यह पुल सासन-गिर को जूनागढ़ के महेंद्रा कस्बे से जोड़ता है। सासन-गिर में वन्यजीव अभयारण्य स्थित है। यह पुल करीब 40 साल पहले मलांका गांव के पास बना था। पारधी ने कहा कि रविवार को पुल ढहने से चार लोगों को मामूली चोट आई है। पुल ढहने से सासन-गिर और महेंद्रा के बीच वाहनों की आवाजाही बाधित हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *