कार्याे की गुणवत्ता एवं पादर्शिता सुनिश्चित करने के भी निर्देश

पौड़ी: आयुक्त, गढ़वाल मण्डल श्री रविनाथ रमन ने अपने कार्यालय पौड़ी से वीडियों कांफे्रस के माध्यम से गढ़वाल मण्डल के समस्त जिलाधिकारियों एवं संबंधित अधिकारियों के साथ संचालित जिला योजना, बीस सूत्रीय कार्यक्रमों एवं सी.एम. हेल्पलाईन-1905 की प्रगति की समीक्षा बैठक ली। देहरादून एवं उत्तरकाशी में जिला योजना की कम प्रगति पर चिंता व्यक्त करते हुए, संबंधित जिलाधिकारी एवं मुख्य विकास अधिकारी को रि-एप्रुवेट कर उन विभागों को जारी करने के निर्देश दिये जिन पर पुरानी देनदारी अथवा योजना चल रही है।

कार्याे की गुणवत्ता एवं पादर्शिता सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिये। उन्होने एस. ई. लघु सिचाई उत्तरकाशी/टिहरी का बैठक में प्रतिभाग न करने पर जिलाधिकारी टिहरी को स्पष्टिकरण लेते हुए, फरवरी माह के वेतन रोकने के निर्देश दिये। जबकि मण्डल के माध्यमिक शिक्षा के संबंधित अधिकारी द्वारा बैठक में तैयारी के साथ न आने पर कढ़ी नाराजगी जाहिर की।


आयुक्त गढ़वाल श्री रमन ने जिला योजना में स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारियों एवं मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि स्वास्थ्य की पैसा स्वास्थ्य पर ही खर्च होनी चाहिए ना कि अन्य विभाग को दें। कहा कि जिला स्तर पर निस्तारण न होने की दशा में विभागीय स्तर पर अनुमति लें। तांकि स्वास्थ्य के क्षेत्र में और बेहतरी से कार्य हो सकें। उन्होने पीएमजीएसवाई की समीक्षा करते हुए चमोली, उत्तरकाशी, टिहरी व रूद्रप्रयाग की कम प्रगति होने पर संबंधित जिलाधिकारी एवं संबंधित अधिकारी ने कहा कि माह के अन्त तक 95 से 98 प्रतिशत खर्च किया जायेगा।

जबकि जल निगम, जल संस्थान की समीक्षा में हरिद्वार, देहरादून के संबंधित जिलाधिकारी को ऋषिकेश में कुंभ मेला हेतु जल निगम, जल संस्थान के आवश्यक कार्य पर खर्च करने सोमवार तक स्थिति सुनिश्चित करने को कहा। वहीं वैकल्पिक ऊर्जा विभाग की समीक्षा करते हुए देहरादून, रूद्रप्रयाग प्रगति में तेजी लाने के निर्देश दिये। लघु सिंचाई उत्तरकाशी की समीक्षा के दौरान संबंधित अधिकारी के अनुपस्थित होने पर स्पष्टिकरण लेने तथा माह फरवरी 2020 के वेतन रोकने हेतु जिलाधिकारी टिहरी गढ़वाल को निर्देशित किया।

चिकित्सा स्वास्थ्य की समीक्षा के दौरान उत्तरकाशी जनपद में टेण्डर प्रक्रिया में आ रही कठिनाई के चलते विभागीय स्तर से कराने को कहा। जिस पर उन्होने सभी जिलाधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा स्वस्थ्य विभाग की आबंटित धनराशी स्वस्थ्य पर ही खर्च चाहिए ताकि उक्त सेवा को और बेहतर किया जा सकें। शिक्षा विभाग की समीक्षा के दौरान माध्यमिक के मण्डल स्तरीय अधिकारी को जानकारी न होने की दशा में कढी नाराजगी व्यक्त करते हुए, पूर्ण तैयारी के साथ प्रतिभाग करने के निर्देश दिये। जबकि अन्य विभागों की कार्य प्रगति की समीक्षा भी की गई।


आयुक्त गढ़वाल श्री रमन ने बीससूत्री की समीक्षा के दौरान डी श्रेणी पर रहने वाले विभागों की लक्ष्य में तेजी लाने के निर्देश दिये। कहा कि जिन विभागों में लक्ष्य रिवाइज किये जाने है शीघ्र करें ताकि सही फीगर मिलने पर रेंक की स्थिति में सुधार लाये जा सकें। पौडी ए में 12, बी 5, सी 2 व डी 3 विभाग, उत्तरकाशी ए 16, बी 3, सी 3 व डी 1 विभाग, चमोली ए 17, बी 3, सी 1 व डी 2 विभाग, रूद्रप्रयाग ए 12, बी 7, सी 2 व डी में 1 विभाग, टिहरी ए 14, बी 4, सी 2 एवं डी 2 विभाग तथा हरिद्वार में ए 11, बी 7 सी 2 तथा डी में 4 विभाग है।


आयुक्त गढ़वाल श्री रमन ने सीएम हेल्प लाईन 1905 की समीक्षा के दौरान सभी एल1 व एल2 स्तर के अधिकारियों को शिकायत की प्रकृति एवं मोटिव को संदर्भित करते हुए निस्तारित करने के निर्देश दिये। कहा कि फोर्स क्लोज में डाटा अनिवार्य रूप से अपलोड करेंगे। ताकि आडिट के दौरान कठिनाई न हो। इस अवसर पर मा0 मुख्यमंत्री आईटी सलाहकार श्री रविन्द्र दत्त ने कहा कि एल1 स्तर पर आने वाले शिकायतों की टाईम पीरियड 7 दिन से बढा कर 15 दिन किया गया है। यह भी कहा कि 7 दिन के बाद शिकायत पर कार्यवाही न होने पर उच्च अधिकारी को मोनेट्रिंग हेतु डेस्क बोर्ड पर दिखेगा।

जिससें संबंधित अधिकारी की कार्य पर लापरवाही को इंगित करेंगा। जिस पर आयुक्त श्री रमन ने स्पष्टिकरण की भी आॅप्सन रखने को कहा। उन्होने  कहा कि सीएम हेल्प लाईन पर अच्छे कार्य होने की बात कही। कार्य में ओर बेहतरी लाने के लिए उन्होने आईटीडीएस में मुख्यालायों में आने वाले अधिकारियों को भी प्रशिक्षण देने को कहा।


वीडियो कान्फेसिंग में जिलाधिकारी गढवाल धीराज सिह,गर्ब्याल, देहरादून डा0 आशीष कुमार श्रीवास्तव, उत्तरकाशी आशीष चैहान, रूद्रप्रयाग मंगेश घिल्डियाल, जिलाधिकारी टिहरी वी षणमुगम, मुख्य विकास अधिकारी पौडी हिमांशु खुराना, हरिद्वार विनित तोमर सहित मण्डल मुख्यालय में संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *