मैदानों में बारिश, ऊंची चोटियों ने ओढ़ी बर्फ की चादर

देहरादून। मसूरी सहित बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के साथ टिहरी, चमोली, रुद्रप्रयाग और पिथौरागढ़ जिलों में पहाड़ों पर जमकर हिमपात हुआ। वहीं, मैदानी इलाकों में मंगलवार की दोपहर से शुरू हुई बारिश का दौर पुरी रात भर चलता रहा। बुधवार की सुबह आठ बजे से कुछ इलाकों में बारिश रुकी तो लोगों ने राहत की सांस ली। वहीं बर्फबारी के चलते गंगोत्री और यमुनोत्री मार्ग बाधित हैं।

देहरादून, हरिद्वार और ऊधमसिंह नगर समेत मैदान क्षेत्रों में जोरदार बारिश हुई। राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के मौसम के मिजाज में बदलाव के संकेत नहीं हैं। विभाग ने इस दौरान 2000 मीटर की ऊंचाई तक के स्थानों पर भारी हिमपात और बारिश की चेतावनी दी है। विभाग की चेतावनी को देखते हुए आज टिहरी, पौड़ी, रुद्रप्रयाग, उत्तरकाशी, चमोली और नैनीताल में कक्षा एक से 12वीं तक के स्कूलों में अवकाश है।

मौसम के करवट बदलते ही दून मसूरी समेत आसपास के इलाकों में मंगलवार की दोपहर से शुरू हु्आ बारिश और बर्फबारी का दौर बुधवार की सुबह तक जारी रहा। एक ओर जहां दून और मसूरी में सुबह से रुक-रुककर बारिश का दौर चलता रहा तो मसूरी, धनोल्टी-सुरकंडा में एक से दो दौर का हिमपात हुआ। यही नहीं बुधवार की सुबह भी यहां जमकर हिमपात हुआ। देहरादून से मसूरी और आसपास की पहाड़ियां बर्फ की चादर से ढकी नजर आ रही हैं।

बारिश-बर्फबारी से अधिकतम पारा लुढ़क गया है और ठिठुरन में इजाफा हो गया है। ऊंची चोटियों पर बर्फबारी के कारण सड़क मार्ग भी प्रभावित हुए, लेकिन लोनिवि और पुलिस के प्रयास से आवाजाही सुचारू रही। मसूरी में भी लगातार हो रही मूसलाधार बारिश व ओले गिरने से सामान्य जनजीवन प्रभावित रहा। उधर धनोल्टी, सुरकंडा, बुरांशखंडा में इन सर्दियों का आठवां हिमपात हुआ। समीपवर्ती आलूफार्म, व्यूप्वाइंट, तपोवन, कद्दूखाल और नागटिब्बा में भी हिमपात हुआ।

धनोल्टी में करीब आधा फीट और सुरकंडा में एक फीट हिमपात होने का अनुमान है। धनोल्टी में लगातार सड़कों से बर्फ हटायी जा रही है, जिससे यातायात सुचारू है। धनोल्टी में पहुंचे पर्यटकों ने हिमपात का खूब आनंद लिया। समीपवर्ती पूरी यमुना व अगलाड़ घाटियों में भी पूरे दिनभर बारिश होती रही।

मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि अभी और बारिश और बर्फबारी की संभावना है। बारिश के दो से तीन दौर हो सकते हैं। अधिकतम और न्यूनतम तापमान क्रमश: 17 डिग्री सेल्सियस और 9 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है।

उत्तरकाशी में गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग गंगनानी से आगे बर्फबारी के कारण बाधित है। यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग राड़ी टॉप में बर्फबारी के कारण बाधित है। स्याना चट्टी, हनुमान चट्टी यमुनोत्री मार्ग भी बाधित हो गया है। लम्बगांव मोटर मार्ग चौरंगी के पास, सुवाखोली मोटर मार्ग भी बाधित है।

जनपद उत्तरकाशी के समस्त तहसील मुख्यालय में जोरदार बारिश हुई। हो रही है। दयारा, रैथल, बार्सू, हर्षिल, गंगोत्री, यमुनोत्री, जानकीचट्टी, राड़ी टॉप, चौरंगी, सांकरी जखोल आदि ऊंचाई वाले क्षेत्रों में जमकर हिमपात हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *