2 बम विस्फोट, 100 की मौत, 300 घायल

मोगादिश: सोमालिया (Somalia) की राजधानी मोगादिशु में दो बम विस्फोट हुए हैं। इस धमाके में कम से कम 100 लोगों की मौत हुई हैं, वहीं 300 लोग घायल हुए है। देश के राष्ट्रपति हसन शेख मोहम्मदी ने रविवार सुबह एक बयान जारी कर इसकी जानकारी दी। ये जोरदार धमाका उस इलाके में हुए हैं जहां शिक्षा मंत्रालय सहित कई सरकारी कार्यालय स्थित हैं। ये इलाका काफी भीड़भाड़ वाला है।

अधिकारियों ने कहा कि शनिवार को दोपहर में ये विस्फोट हुआ है जिसमें बच्चों सहित सैकड़ों नागरिकों की मौत हुई है। मोगादिशु में हमला उस दिन हुआ जब राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और अन्य सीनियर अधिकारी हिंसक उग्रवाद का मुकाबला करने के लिए बैठक कर रहे थे।

सोमालिया की राष्ट्रीय समाचार एजेंसी के अनुसार, पुलिस प्रवक्ता सादिक दोदिशे ने बताया कि 2 कार बम विस्फोट हुए है। अस्पताल के एक कर्मचारी ने शनिवार तक 30 शवों की गिनती की। बता दें कि अल-कायदा से जुड़े अल-शबाब समूह अक्सर राजधानी मोगादिशु को निशाना बनाते रहते हैं।

इससे पहले साल 2017 में बड़े पैमाने पर अल-शबाब समूह ने विस्फोट किया था, जिसमें 500 से अधिक लोग मारे गए थे। अब तक किसी ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। राष्ट्रपति हसन शेख मोहम्मद ने हमले को क्रूर और कायर बताते हुए अल-शबाब समूह को दोषी ठहराया हैं।

मदीना अस्पताल के एक स्वयंसेवक हसन उस्मान ने कहा, “अस्पताल में लाए गए कम से कम 30 मृत लोगों में से अधिकांश महिलाएं हैं। आमीन एम्बुलेंस सेवा ने कहा कि उन्होंने कम से कम 35 घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया है।

हमले के दौरान 100 मीटर की दुरी पर रहे अब्दिराजाक हसन ने कहा कि पहला धमाका शिक्षा मंत्रालय की परिधि की दीवार पर हुआ, जहां रेहड़ी-पटरी बेचने वाले काम करते है। घटनास्थल पर मौजूद एसोसिएटेड प्रेस के एक पत्रकार ने कहा कि दूसरा विस्फोट एक व्यस्त रेस्तरां के सामने दोपहर के समय हुआ।

विस्फोटों ने कई रेस्तरां और होटलों और अन्य वाहनों को ध्वस्त कर दिया। सोमाली जर्नलिस्ट्स सिंडिकेट ने अपने सहयोगियों और पुलिस का हवाला देते हुए कहा कि दूसरे विस्फोट में एक पत्रकार की मौत हो गई और दो अन्य घायल हो गए।

सोमालिया (Somalia)की सरकार चरमपंथी गुट के खिलाफ एक नए हमले में लगी हुई है जिसे संयुक्त राज्य अमेरिका ने अल-कायदा के सबसे घातक संगठनों में से एक के रूप में चिन्हित किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.