डिजिटल बैंकिंग के बारे में बताया

रुद्रप्रयाग :भारतीय स्टेट बैंक ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान (आरसेटी) रुद्रप्रयाग द्वारा मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना में आवेदन करने वाले समस्त विकास खंड के 20 प्रशिक्षणाथियों को जनपद मुख्यालय में 06 दिवसीय उद्यमिता विकास प्रशिक्षण दिया गया।

कार्यक्रम के समापन के अवसर पर एसबीआई आरएसीसी के मुख्य प्रबंधक अंजली कुशवा एवम एसबीआई एडीबी के शाखा प्रबंधक जगदीश प्रसाद डिमरी द्वारा सभी प्रशिक्षणाथियों को प्रमाण पत्र वितरण किए गए। मुख्य प्रबंधक अंजली कुशवा द्वारा सभी प्रशिक्षणाथियों को बैंक से भविष्य में सही से लेनदेन करने हेतु प्रेरित किया गया। सभी प्रशिक्षणाथियों को समय पर बैंक किश्त जमा करने की सलाह दी गई। इसके साथ ही बैंक की विभिन्न बीमा योजनाओं, सिबिल स्कोर आदि की जानकारियां दी गई।

एसबीआई एडीबी प्रबंधक जगदीश प्रसाद डिमरी द्वारा बैंक की विभिन्न स्किमों की जानकारियों के साथ ही डिजिटल बैंकिंग के बारे में बताया गया। प्रशिक्षण कार्यक्रम के आरंभ में लीड बैंक मैनेजर विवेक कुमार द्वारा सभी प्रशिक्षणाथियांे से उनके व्यवसाय से संबंधित चर्चा की गई। सभी प्रशिक्षणाथियों को समय से बैंक में ऋण सम्बधित दस्तावेज जमा करने की सलाह दी गई साथ ही बंैकिंग ऋण संबंधित समस्याओं के समाधान पर चर्चा की गई।

आरसेटी के निदेशक किशन सिंह रावत द्वारा आरसेटी संस्थान के बारे में विस्तार से बताया गया साथ ही उन्होंने संस्थान द्वारा चलाई जा रही विभिन्न रोजगार योजनाओं के बारे में बताया। प्रशिक्षण के दौरान आरसेटी के प्रशिक्षकों द्वारा उद्यमिता, प्रोजेक्ट रिपोर्ट, इफेक्टिव कम्युनिकेशन, मोटिवेशन, मार्केट सर्वे, बाजार प्रबंधन आदि विषयों पर चर्चा की गई। साथ ही विभिन्न प्रकार के गेमों के माध्यम से प्रतिभागियों का मनोबल बढ़ाया गया।

कार्यक्रम के समापन के अवसर पर भूपेंद्र सिंह रावत, प्रवीण सिंह, कविता देवी, हिना देवी, सुनीता देवी, हर्षवर्धन, राजेश राणा, भगवती प्रसाद, विनोद प्रसाद, शिव चंद्र आदि प्रशिक्षणार्थी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.