हादसा: हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से पांच बच्चे झुलसे

लालकुआं: हरिद्वार के लालकुआं नगर के वार्ड नंबर 6 में बेटी की सगाई के लिए लगाए जाने वाले टेंट के पाइप को छत पर चढ़ाते समय हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से पांच बच्चे झुलस गए। इनमें से दो बच्चों को एसटीएच हल्द्वानी में भर्ती कराया गया, जहां से एक बच्ची को बाद में डिस्चार्ज कर दिया गया। जबकि तीन बच्चों का प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लालकुआं में उपचार किया गया। फिलहाल सभी की हालत सामान्य है।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, यहां वार्ड नंबर 6 में व्यापार मंडल के पूर्व अध्यक्ष अशोक अग्रवाल के मकान में किराए पर रहने वाली बबिता पत्नी मुनेश की बेटी ज्योति की गुरुवार को सगाई थी। गुरुवार सुबह लगभग 10 बजे परिवार के बच्चे टेंट के लोहे के पाइप छत पर चढ़ा रहे थे। तभी एक पाइप मकान के पीछे से गुजर रही बिजली विभाग की रेलवे स्टेशन को जा रही अलग हाईटेंशन लाइन को छू गया।

पाइप में करंट आने से आठ बच्चों को करंट लगा। इनमें से 5 बच्चे करंट से झुलस गए। सूचना पर कोतवाल डीआर वर्मा तत्काल बच्चों को घर के पड़ोस में स्थित एक क्लीनिक में ले गए, जहां प्राथमिक उपचार के पश्चात दो बच्चों को हल्द्वानी रेफर कर दिया गया। वहीं तीन बच्चों का प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लालकुआं में उपचार किया गया।

वहीं तीन बच्चों को मामूली रूप से करंट लगा, जिनका घर पर ही उपचार किया गया। करंट से जो बच्चे झुलसे हैं, उनमें आदित्य (9 वर्ष) पुत्र मुनेश, आर्यन (14 वर्ष) पुत्र पूरन कुंद्रा, पलक (17 वर्ष) पुत्री पूरन कुंद्रा निवासी इंदिरानगर झोपड़पट्टी पंतनगर, रानों (12 वर्ष) पुत्री मुनेश और सेम (14 वर्ष) पुत्र जितेंद्र निवासी रुद्रपुर शामिल हैं।

लालकुआं के कोतवाल डीएल वर्मा ने कहा, ‘करंट से बच्चों के झुलसने की सूचना मिलते ही पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए घायलों को नजदीकी अस्पताल में पहुंचाया और वाहन की व्यवस्था कर दो बच्चों को हल्द्वानी भिजवाया। अभी तक मामले में कोई शिकायत नहीं मिली है, शिकायत मिलने पर मामले की जांच की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.