भीषण हादसाः चार मंजिला इमारत गिरी, मलबे में 50लोगों के दबे होने की आशंका !

मुंबई: मुंबई के डोंगरी इलाके में मंगलवार सुबह केसरबाई नामक चार मंजिला इमारत गिर गयी। इस इमारत के मलबे में 50 लोगों के दबे होने की आशंका जतायी जा रही है। दमकल विभाग और राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की टीम मौके पर पहुंच बचाव कार्य में जुटी हुई हैं ।गली अधिक संकरी होने की वजह से बचाव कार्य में काफी दिक्कत हो रही है लोग मानव श्रृंखला बनाकर लोगों को मलबे से बाहर निकाल रहे हैं। गली में मलबा फैले होने की वजह से चार किमी जाम लगा हुआ है।

स्थानीय लोगों का कहना है कि यह इमारत सौ साल से भी पुरानी थी लेकिन जर्जर हालत में नहीं थी, इसे देखकर नहीं लगता था कि ये गिर जाएगी। बीएमसी महानगर में मौजूद खतरनाक इमारतों की सूची बनाती है लेकिन इस इमारत का नाम उनकी लिस्ट में नहीं था।

वृहत मुंबई कारपोरेशन (बीएमसी) के मुताबिक, सुबह 11 बजकर 48 मिनट पर डोंगरी के टांडेल गली में केसरबाई नाम की बिल्डिंग का आधा हिस्सा गिर गया। यह बिल्डिंग अब्दुल हमीद शाह दरगाह के पीछे है और काफी पुरानी है।

गौरतलब है कि मुंबई और आसपास के इलाकों में रुक रुक कर हो रही बारिश अब जानलेवा साबित होने लगी है। पुणे और मुंबई समेत राज्‍य के अलग-अलग इलाकों में वर्षा जनित हादसों में कुल 30 लोगों की मौत हो चुकी है।

पुणे में दीवार गिरने से 15 की मौत

मुंबई में मानसून के आते ही लगातार ऐसी घटनायें हो रहीं हैं। कुछ दिन पहले ही महाराष्ट्र के पुणे में बारिश के कारण इमारत की दीवार गिरने से 15 लोगों की मौत हो गई । यह दर्दनाक हादसा पुणे के कोंढवा में हुआ । इस हादसे में कई लोग घायल भी हुए ।

मलाड़ में दीवार गिरने से 18 की मौत

मुंबई के मलाड़ इलाके में कुरार गांव में एक पहाड़ी ढलाव पर बनी झोपडिय़ों पर भरभराकर एक दीवार गिर गई थी। इसमें 18 लोगों की मौत हो गई है जबकि 50 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे। घटना के वक्त दीवार के किनारे झोपडिय़ों में परिवार सो रहे थे।

इस हादसे में अभी तक प्रशासन की तरफ से दो लोगों की मौत होने की पुष्टि की गई है. जबकि अभी तक पांच लोगों को मलबे में से सुरक्षित निकाला गया है.NDRF का कहना है कि ये बिल्डिंग संकरी गली में है, जिसकी वजह से राहत कार्य करने में मुश्किल हो रही है. हालांकि, लगातार टीमें वहां पर पहुंच रही है, आसपास की इमारतों को भी खाली कराया गया है. प्रशासन की मदद करने के लिए स्थानीय निवासी भी सामने आए हैं और वह मलबा हटाने में मदद कर रहे हैं.

बीएमसी के मुताबिक, मंगलवार 11 बजकर 48 मिनट पर डोंगरी के टांडेल गली में केसरबाई नाम की बिल्डिंग का आधा हिस्सा गिर गया. यह बिल्डिंग अब्दुल हमीद शाह दरगाह के पीछे है और काफी पुरानी है. चश्मदीद के मुताबिक, इस बिल्डिंग में 8-10 परिवार रहते हैं.


एक प्रत्यक्षदर्शी का कहना है कि ये बिल्डिंग 80 से 100 साल पुरानी है और इसमें 8 से 10 परिवार रहता है. जब बिल्डिंग गिरी तो इसमें 40 लोग मौजूद थे. जब बिल्डिंग गिरी तो ऐसा लगा कि मानो भूकंप आ गया है.

आपको बता दें कि बीते कुछ दिनों से मुंबई में लगातार बारिश हो रही है. बारिश की वजह से मुंबईकरों को काफी मुश्किलें हो रही हैं, जिसमें बिल्डिंग गिरने की घटना सामने आई हैं. इसके अलावा कई हादसे ऐसे हुए हैं, जहां पर लोग नाले में बह गए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *