भूत को चाहिए जमीन, मारपीट कर कागजात छीने ! FIR दर्ज

उदय दिनमान डेस्कः भूत को चाहिए जमीन, मारपीट कर कागजात छीने ! FIR दर्ज . आप भी खबर पढ़कर चैंक गए होंगे, लेकिन यह सत्य है और यह मामला कोर्ट में चल रहा है। कोर्ट में एक ऐसे व्यक्ति पर मुकदमा चल रहा है जिसकी मौत सात साल पहले हो चुकी है। चलिए आपको विस्तार से बताते है कि मामला क्या है-

वैसे आप समझ चुके होंगे कि यह सब कहा हो सकता है। आप ठीक समझे यह सब हो सकता है कि यह तो बिहार में ही हो सकता है। जी हां बिहार के आजमनगर थाना में जमीन विवाद को लेकर सात वर्ष पूर्व मृत एक व्यक्ति पर प्राथमिकी दर्ज होने का मामला सामने आया है। मामले में एक अन्य आरोपित कटिहार मेडिकल कॉलेज के चिकित्सक डॉ. मतीउर रहमान ने पुलिस अधीक्षक को आवेदन देकर घटना को मनगढ़ंत व बेबुनियाद बताया है।

चिकित्सक ने एसपी को दिये आवेदन में कहा है कि घटना में अभियुक्त बनाये गए मो. यासीन की मृत्यु सात वर्ष पूर्व ही हो चुकी है। उन्होंने मृत्यु प्रमाण-पत्र संबंधी तथ्य भी आवेदन के साथ दिया है।

जानकारी के मुताबिक, आजमनगर थाना के बसंतपुर निवासी विदेशी मंडल ने जमीन विवाद को लेकर मारपीट व धमकी देने का आरोप लगाते हुए सफीकुल हुसैन, यासीन, नेश मोहम्मद, हकीमउद्दीन, मुबारक हुसैन, जमालउद्दीन, मुख्तार अहमद, मेहंदी हुसैन, मसूद आलम, नइमउद्दीन, मतीउररहमान तथा रामपत मंडल पर जबरन जमीन पर कब्जा कर लेने का 16 मार्च 2019 को मामला दर्ज कराया था।

बताया जा रहा है कि कांड के अनुसंधानकर्ता द्वारा अनुसंधान भी पूरा कर लिया गया, जिसमें घटना को सही बताया गया। जानकारी के मुताबिक, न्यायालय में अभी चार्जशीट दाखिल नहीं की गई है। हालांकि, अनुसंधान पूरा होने के संबंध में अधिकारिक जानकारी नहीं मिल पाई है। बहरहाल मामला सामने आने के बाद पुलिस की कार्यशैली पर भी सवाल खड़ा हो रहा है।

इस तरह की जानकारी नहीं है। शिकायत मिलने पर इसकी जांच कराई जाएगी। प्राथमिकी दर्ज किए जाने के बाद अनुसंधान में सामने आए तथ्य और सुपरविजन रिपोर्ट भी इस मामले में महत्वपूर्ण है। जांच के बाद ही स्पष्ट रूप से कुछ कहा जा सकता है। दोषी पाए जाने पर संबंधित पुलिस पदाधिकारी के विरुद्ध विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

विकास कुमार, पुलिस अधीक्षक, कटिहार।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *