शराब कांड में भाजपा नेता गिरफ्तार

हरिद्वार : शनिवार को हरिद्वार में सामने आए पथरी शराब कांड में पुलिस ने ग्रामीणों को कच्ची शराब पिलाने वाले एक भाजपा नेता को गिरफ्तार किया है। प्रधान पद का चुनाव लड़ रही उसकी पत्नी व भाई की तलाश की जा रही है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ. योगेंद्र सिंह रावत ने पथरी थाने में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसकी जानकारी दी।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने बताया कि घटना की छानबीन करते हुए आरोपित विजेंद्र को गिरफ्तार किया गया है। उसकी निशानदेही पर 35 लीटर कच्ची शराब और कोल्ड ड्रिंक्स की 4 खाली बोतलें बरामद की गई है। इन्हीं बोतलों में भरकर ग्रामीणों को शराब पिलाई गई थी।

बिजेंद्र की पत्नी बबली त्रिस्‍तरीय पंचायत चुनाव में ग्राम प्रधान की उम्‍मीदवार हैं। पत्‍नी की तलाश की जा रही है। बिजेंद्र का भाई नरेश फरार है, उसकी भी तलाश की जा रही है।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉक्‍टर योगेंद्र रावत ने बताया कि गांव में लाउडस्पीकर के माध्यम से ग्रामीणों से यह अपील की जा रही है कि यदि कोई बीमार है तो उसकी सूचना दें, ताकि उसे समय रहते अस्पताल में भर्ती कराया जा सके।

शनिवार को हरिद्वार जिले में जहरीली शराब पीने से सात व्यक्तियों की मौतों ने कोटद्वार के हल्दूखाता क्षेत्र की याद ताजा कर दी। वर्ष 2002 में शराब ने हल्दूखाता क्षेत्र में छह ग्रामीणों की जान ले ली थी।

कच्ची शराब की तस्करी को रोकने के दावे तमाम हुए, लेकिन, आज भी कोटद्वार क्षेत्र में बड़े पैमाने पर कच्ची शराब की बिक्री होती है। दरअसल, कोटद्वार सीमा से सटे बिजनौर क्षेत्र के कई गांवों से कोटद्वार में कच्ची शराब की तस्करी की जाती है।

शहर में कच्ची शराब की तस्करी का एक कारण यह भी है क्षेत्र की सीमाएं पूरी तरह खुली हुई हैं। सीमा से सटे बिजनौर वन प्रभाग के जंगलों में शराब तस्कर भट्टी लगा कोटद्वार क्षेत्र में आसानी से शराब की सप्लाई करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.