देश में कोरोना के मरीज 18 हजार के पार, अब तक 590 की मौत

नई दिल्ली।स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के मुताबिक, पिछले 24 घंटों में 1336 नए मामले सामने आए हैं। वहीं, 47 मौतें भी हुई हैं। इसके साथ ही भारत में कोरोना वायरस पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या बढ़कर 18601 हो गई है। इसमें 14759 सक्रिय मामले हैं। 3252 ठीक हो चुके हैं और देश में 590 लोगों की अब तक मौत हो चुकी है।

महाराष्ट्र 4,666 कुल मामलों के साथ प्रभावित राज्यों में सबसे ऊपर है। इसके बाद दिल्ली में 2,081 मामले और 47 मौतें हुईं। राजास्थान में 1,576 मामले और 25 मौतें हुई हैं, जबकि तमिलनाडु में 1,520 मामले और 17 मौतें हुई हैं।

पिछले हफ्ते तक कोरोना का डबलिंग रेट 6.2 दिन था, वह अब बढ़कर 7.5 दिन हो गया है। इससे बड़ी बात यह है कि दिल्ली, उत्तराखंड, पंजाब और बिहार समेत 18 राज्यों का डबलिंग रेट इससे भी ज्यादा है।

इसके साथ ही पिछले 28 दिनों में एक भी नया केस नहीं आने वाले जिलों की संख्या दो से बढ़कर तीन हो गई है और उत्तराखंड का पौड़ी इसमें शामिल हो गया है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल के अनुसार, डबलिंग रेट का ज्यादा होना इस बात का प्रमाण है कि शारीरिक दूरी और लॉकडाउन के दिशानिर्देशों के पालन से वायरस फैलने की गति धीमी हुई है।

उन्होंने कहा कि इस रेट में लगातार सुधार आ रहा है। लॉकडाउन लागू होने के पहले 3.4 दिन में कोरोना के मरीजों की संख्या दोगुनी हो रही थी, लेकिन अब इसमें 7.5 दिन लग रहे हैं।

अगर राज्यों की बात की जाए तो शुरुआत में सबसे गंभीर दिख रहा केरल अब लड़ाई में सबसे आगे है। वहां कोरोना के केस दोगुने होने में 72.2 दिन लग रहे हैं और दूसरे स्थान पर ओडिशा है जहां 39.8 दिन लग रहे हैं।

कोरोना के खिलाफ लड़ाई में दिल्ली पंजाब, छत्तीसगढ़, बिहार, हरियाणा, जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड जैसे राज्यों ने अपेक्षाकृत बेहतर प्रदर्शन किया है।

दिल्ली में केस का डबलिंग रेट 8.5 दिन, पंजाब में 13.1 दिन, छत्तीसगढ़ में 13.3 दिन, बिहार में 16.4 दिन, हरियाणा में 21 दिन, हिमाचल प्रदेश में 24.5 दिन और उत्तराखंड में 26.6 दिन है। दुनिया के दूसरे देशों की तुलना में देखें तो भी भारत दुनिया के विकसित देशों की तुलना में आगे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *