उत्तराखंड के गांवों में कोरोना की दस्तक, पांच सौ जांच रिपोर्ट का इंतजार!

रविवार दो बजे तक 53 नए मरीज मिले,कोरोना पाजिटिव की संख्या 299

देहरादून। उत्‍तराखंड में रविवार को अभी तक 53 नए मरीज मिले हैं, इन्‍हें मिलाकर संख्या 299 पहुंच गई। अकेले नैनीताल जिले में 32 और लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। वहीं, एक रोज पहले देहरादून मेडिकल कॉलेज में मृत महिला की कोरोना रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है।

इस तरह गंभीर बीमारी से जूझ रहे तीन कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है। हरिद्वार और नैनीताल में रविवार को महाराष्‍ट्र और अन्‍य राज्‍यों से आने वाले मरीजों की पांच सौ ज्‍यादा जांच रिपोर्ट आ सकती हैं। श्रमिक एक्‍सप्रेस से पहुंचे इन लोगों में ज्‍यादातर को सैंपल लेकर संस्‍थागत क्‍वारंटाइन किया गया है।

नैनीताल में कोरोना का खतरा लगातार बढ़ रहा है। रविवार को महाराष्ट्र से लौटे 65 और लोगों की रिपोर्ट आ चुकी है। इसमें 32 और लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। जबकि एक दिन पहले ही 350 लोगों में से 55 लोग एक साथ पॉजिटिव मिले थे।

इन सभी को डॉ. सुशीला तिवारी राजकीय चिकित्सालय में भर्ती किया गया है। इसी के साथ ही जिले में मरीजों की संख्या 110 हो चुकी है। अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. रश्मि पंत ने बताया कि 21 मई को महाराष्ट्र से लौटे 106 और लोगों की रिपोर्ट आनी है।

शनिवार को रेकार्ड 92 नए पॉजिटिव केस मिले। अलसुबह से देर रात तक जिस तेजी से मरीजों का ग्राफ बढ़ा है उसने न केवल सरकारी सिस्टम, बल्कि आम आदमी को भी चिंता में डाल दिया है। उत्तराखंड में एक दिन पहले तक जहां संक्रमितों की संख्या 154 थी, वह अब बढ़कर 246 पहुंच गई है। यानि एक दिन में कोरोना के रिकॉर्ड 92 नए मामले आए हैं।

इनमें सर्वाधिक 57 मामले जनपद नैनीताल से हैं। यही नहीं अभी तक कोरोना मुक्त रहे पिथौरागढ़, चंपावत व रूद्रप्रयाग में भी कोरोना की दस्तक हो चुकी है। यानि मैदान से लेकर पहाड़ तक कोरोना की चपेट में है। नए संक्रमितों में महाराष्ट्र से लौटने वाले प्रवासियों की संख्या सर्वाधिक है। अन्य मरीज दिल्ली, गुरुग्राम, राजस्थान आदि राज्यों से आए प्रवासी हैं।

कोरोना के लिहाज से हर दिन हालात बिगड़ते जा रहे हैं। विभिन्न राज्यों से प्रवासियों की वापसी के बाद से यहां मामले कई गुणा रफ्तार से बढ़े हैं। इस बात का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि पिछले एक पखवाड़े में ही कोरोना संक्रमण के 189 मामले सामने आ चुके हैं।

रविवार को टिहरी के तीन और युवकों में कोरोना की पुष्टि हुई है। सीएमएस डॉ अमित राय ने बतया कि ये तीनों युवक महाराष्ट्र से 20 मई को आए थे। दो युवक नरेंद्रनगर अस्पताल में भर्ती हैं। दोनों नरेंद्रनगर ब्लॉक के खांकर गांव के निवासी है,

जबकि एक युवक ऋषिकेश में ऋषिलोक क्‍वारंटाइन सेंटर में है। उसकी भी कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। तीनों की कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग में प्रशासन जुट गया है। अब टिहरी में कोरोना पॉजिटिव की संख्‍या नौ हो गई है।

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में एक नर्सिंग ऑफिसर सहित चार लोगों की कोविड-19 रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। शिवाजीनगर ऋषिकेश में रहने वाला यह नर्सिंग ऑफिसर 7 मई को खटीमा गया था। वह 20 तारीख को लौटा है। उसकी जांच कर उसे होम क्‍वारंटाइन किया हुआ था।

इनके अतिरिक्त मुजफ्फरनगर निवासी 52 वर्षीय व्यक्ति, बिलासपुर रामपुर उत्तर प्रदेश निवासी 34 वर्षीय व्यक्ति और रेल पार श्यामपुर शामली निवासी 23 वर्षीय एक अन्य व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनके ट्रैवल हिस्ट्री पता की जा रही है।

चमोली जिले के गैरसैंण में तीन लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। पूर्व में संक्रमित पाए गए एक व्यक्ति की पत्नी, बहन और एक बच्चा कोरोना संक्रमित हैं। यह लोग गढ़वाल मंडल विकास निगम के गेस्‍ट हाउमें में क्‍वारंटाइन में हैं।

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार शनिवार को जनपद नैनीताल में कोरोना के सर्वाधिक 57 नए मामले आए हैं। जिनमें 55 लोग महाराष्ट्र से चली ट्रेन से 21 मई को हरिद्वार पहुंचे थे। यहां से उन्हें बसों के जरिये हल्द्वानी भेजा गया था।

उस दिन ट्रेन से आए करीब चार सौ लोगों को हल्द्वानी में संस्थागत क्वारंटाइन किया गया है, इनमें से करीब साढ़े तीन सौ के सैंपल लिए गए थे। शाम को मिली 180 रिपोर्ट में से 55 रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

अभी तक कोरोना मुक्त रहे रूद्रप्रयाग व चंपावत भी अब कोरोना की जद में आ गए हैं। टनकपुर में मुंबई, चंडीगढ़ व गुरुग्राम से लौटे सात लोग संक्रमित मिले हैं। वहीं अल्मोड़ा के ताड़ीखेत ब्लॉक में भी तीन लोग कोरोना संक्रमित मिले हैं। जबिक उत्तरकाशी में हरियाणा, गोवा व मुंबई से वापस लौटे तीन और व्यक्तियों में कोरोना की पुष्टि हुई है।

जनपद चमोली में ग्राम वडुक गमदार निवासी एक सात वर्षीय बच्चे, एक व्यक्ति और घाट ब्लॉक के ग्राम बूरा निवासी एक शख्स की रिपोर्ट पॉजीटिव है। दून में भी कोरोना के सात नए मामले हैं। इनमें राजस्थान से लौटी एम्स ऋषिकेश की दो नर्सिंग छात्रएं हैं। वहीं, ऋषिकेश निवासी संक्रमित गर्भवती के पति की रिपोर्ट पॉजिटिव है।

मुम्बई से लौटे निवासी दो भाई और गुरुग्राम से लौटे लक्ष्मण झूला के समीप रहने वाला युवक संक्रमित मिला है। क्लेमेनटाउन निवासी इंजीनियर में कोरोना की पुष्टि हुई है। वह नोएडा से लौटा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

उदय दिनमान’ एक वैचारिक आंदोलन भी है। इस आंदोलन का सरोकार आर्थिकी, राजनीति, समाज, संस्कृति, इतिहास व विकास से है। अकेले उत्तराखंड की बात करें तो यह क्षेत्र सदियों से न केवल धार्मिक आस्थाओं का केंद्र रहा है, बल्कि यह क्षेत्र मानव सभ्यता-संस्कृति का उद्गम स्थल भी समझा जाता रहा है। आधुनिक समय में विकास की अवधारणा के जन्म लेने के साथ हिमालयी समाज-संस्कृति को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। ये चुनौतियां हमारी संस्कृति पर निरंतर प्रहार कर इसे गहरा आघात पहुॅचाने में तुली हुई है। हालांकि, सामाजिक, शारीरिक, आर्थिक आदि कष्टों के बावजूद यह संस्कृति अपने ताने-बाने से छिन्न-भिन्न नहीं हो सकी है। मगर निरंतर जारी प्रहारों से एकबारगी चितिंत होना स्वाभाविक है। ‘उदय दिनमान’ का प्रयास है कि राजनीति, समाज, संस्कृति, इतिहास, विकास व आर्थिकी पर निरंतर हो रहे आघातों से जनमानस को सजग रखने का प्रयास किया जाए। यह कहकर हम कोई बड़ा दंभ नहीं भर रहे हैं। यह हमारा मात्र एक लघु प्रयास भर है। हमारी अपेक्षा व आकांक्षा है कि हमारे इस प्रयास में आपकी भागीदारी ही नहीं सुनिश्चित हो, बल्कि आपके विस्तृत अनुभवों, विचारों, सुझावों व गतिविधियों का लाभ ‘उदय दिनमान’ के द्वारा व्यापक जनमानस तक पहुंचे। उक्त क्रम में ‘उदय दिनमान’ के प्रयासों को बल प्रदान करने के निमित आप अपने अनुभवों, सुझावों व विचारों को लेख अथवा यात्रावृत्त, संस्मरण, रिर्पोट, कथा-कहानी, कविता, रेखाचित्र, फोटो आदि के रूप में प्रेषित करने का कष्ट करें। संपर्क करें। https://www.udaydinmaan.com/ संतोष बेंजवाल संपादक कन्हैया विहार, निकट कारगी चैक, देहरादून (उत्तराखंड) udaydinmaan@gmail.com Phone:0135-3576257 Mob:+91.9897094986 Email: udaydinmaan@gmail.com