गोर्खा दशैं-दीपावली महोत्सव मेले में सांस्कृतिक कार्यक्रमों की रहेगी धूम

मुख्यमंत्री करेंगे तीन दिवसीय गोर्खा दशैं-दीपावली महोत्सव 2022 का शुभारंभ
गोर्खा दशैं-दीपावली महोत्सव-2022 का आयोजन 14 से 16 अक्टूबर को देहरादून के महेन्द्रा ग्राउन्ड गढ़ी कैन्ट में होगा
अन्तर्राष्ट्रीय लोकगायक श्याम राना व लोकगायिका  अमृता लुगंली देंगे अपनी प्रस्तुतियां
देहरादून: तीन दिवसीय गोर्खा दशैं-दीपावली महोत्सव-2022 मेले का आयोजन 14 से 16 अक्टूबर तक महेन्द्र ग्राउन्ड, निकट शहीद दुर्गा मल्ल पार्क, गढ़ी कैन्ट, देहरादून में आयोजित होने जा रहा है। तीन दिवसीय मेले के आयोजक व संयोजक वीर गोर्खा कल्याण समिति (रजि0) देहरादून उत्तराखण्ड द्वारा उत्तरांचल प्रेस क्लब देहरादून में प्रेसवार्ता का आयोजन किया गया।

प्रेसवार्ता के दौरान वीर गोर्खाकल्याण समिति के अध्यक्ष कमल थापा ने बताया कि नेपाल के अन्तर्राष्ट्रीय लोकगायक श्याम राना व लोकगायिका अमृता लुगंली तीन दिवसीय गोर्खा दशैं-दीपावली महोत्सव-2022 में मुख्य आकर्षण का केंन्द्र रहेंगे। देहरादूनवासियों के लिए मेले में गोर्खाली स्वादिष्ट व्यंजन, सरकारी व अर्ध सरकारी विभिन्न प्रकार के स्टॉलों की प्रदर्शनी, गोर्खाली पारम्परिक वेष-भूषा एवं परिधानों की प्रदर्शनी, आर्मी का खुकुरी नृत्य, दशैदिपावली नाट्य-नाटिका प्रस्तुति, बच्चों के लिए विभिन्न प्रकार के खेल सामग्री के साथ झूले तथा विभिन्न संस्थानों एवं समूह द्वारा शानदान प्रस्तुतियां दी जायेंगी।

वीर गोर्खाकल्याण समिति के महासचिव विशाल थापा ने बताया कि तीन दिवसीय मेले में सांस्कृतिक कार्यक्रमों का शुभारंभ मुख्य अतिथि माननीय मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी के द्वारा किया जाएगा वहीं दूसरे दिन के कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप कैबिनेट मंत्री माननीय गणेश जोशी जी मौजूद रहेंगे। उन्होंने बताया कि कार्यक्रम के तीसरे दिन में मुख्य अतिथि के रुप में महामहिम डॉ शंकर प्रसाद शर्मा नेपाल के राजदूत मौजूद रहेंगे एवं गोर्खा दशैं-दीपावली महोत्सव-2022 की गरिमा को बढ़ायेंगे। उन्होंने कहा कि इस दौरान गोर्खा अचीवर सम्मान भी दिया जायेगा।

सांस्कृतिक सचिव देवकला दीवान ने प्रेस वार्ता में बताया कि गोर्खा दशैं-दीपावली महोत्सव-2022 मेले में सांस्कृतिक कार्यक्रम होने हैं जिसके लिए उत्तराखण्ड के अलग-अलग संस्थाओं द्वारा नामंकन किया गया। सांस्कृतिक कार्यक्रमों की संख्या अधिक होने के कारण अलग-अलग जगह से आये संस्थाओं का ऑडिशन लिया गया। उन्होंने बताया कि सांस्कृतिक कार्यक्रमों में नेपाली, गढ़वाली, कुमाऊनी, जौनसारी, राजस्थानी, पंजाबी व हिन्दी गानों पर स्थानीय कलाकारों द्वारा सुन्दर-सुन्दर प्रस्तुतियां दी जायेंगी, साथ ही जनजातिय समूह नृत्य भी प्रस्तुत किया जायेगा वही हमारे लोकप्रिय गायिका शिकायना मुखिया और सोनाली राई भी अपनी प्रस्तुति देंगे।

प्रेस वार्ता के दौरान वीर गोर्खाकल्याण समिति के अध्यक्ष कमल थापा,वरिष्ठ उपाध्यक्ष श्रीमती उर्मिला तमांग , उपाघ्यक्ष श्री सूर्य विक्रम शाही,  मनोज तमांग, महासचिव श्री विशाल थापा, कोषाध्यक्ष श्री टेकू थापा, सचिव श्री देविन शाही, सचिव श्रीमती आशु थापा,सांस्कृतिक सचिव श्रीमती देव कला दीवान, सांस्कृतिक  सह सचिव श्रीमती झगु राना, संरक्षक मेजर बि पी थापा, संरक्षक सुश्री सारिका प्रधान ,  सलाहकार  कर्नल फुल माया गुरुंग, कर्नल एलबी खत्री वही समिति सदस्यों में  बुदेश राई, दिल कुमारी शाही ,करमिता थापा,सूबेदार मीन प्रसाद गुरुंग  एवं सूजन शाही मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.