दर्दनाकः दो वाहनों की जोरदार भिड़ंत, 6 की मौत,30 घायल

हरदोई। जिले में गुरुवार को डीसीएम और ट्रैक्टर ट्रॉली के बीच जोरदार भिड़ंत हो गई। हादसे में 6 लोगों की मौत हो गई है, जबकि करीब दो दर्जन से अधिक लोग घायल हुए हैं। सभी घायलों को नजदीक के अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। वहीं, यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने जिलाधिकारी को निर्देश दिया कि वे घायलों को हर संभव चिकित्सा सहायता प्रदान करें और मृतक के परिवार को सर्वहित बीमा योजना के तहत मुआवजा प्रदान करें।

भीषण हादसा बिलग्राम कोतवाली इलाके में सदरपुर के पास हुआ। बघौली थाना क्षेत्र के भारतपुरवा निवासी रामप्रकाश पाल की पुत्री का बुधवार की रात सांडी थानाक्षेत्र के ससेड़ा मजरा धोंधी गांव में तिलक था। परिवार और गांव के लोग टैक्टर-ट्राली से तिलक चढ़ाने गए थे। आधी रात बाद वापस लौट रहे थे। सदरपुर के पास पहुंचे ही सामने से रही एक डीसीएम ने ट्रैक्कर-ट्राली में टक्कर मार दी। जिससे ट्राली पलट गई।

घटना में भारतपुरवा निवासी रज्जू (40), शंकर (60)और विश्राम (45) की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि अन्य घायलों को जिला अस्पताल भेजा गया। जहां पर भारतपुरवा निवासी ऋषी कुमार (60), गंगाराम (50) आैर सुरस थानाक्षेत्र के बंधिया निवासी बालक राम (60) की भी मौत हो गई। हादसे में करीब दो दर्जन लोग घायल हैं। हालांकि किसी अन्य को कोई गंभीर चोट नहीं है। हादसे की खबर मिलते ही परिवार में कोहराम मच गया। तीन के शव बिलग्राम सीएचसी आैर तीन के शव हरदोई जिला अस्पताल में रखे हैं।

वहीं, ट्राली में सवार लोगों ने बताया कि तिलक से लौटते समय रास्ते में बहुत तेज धमाका हुआ आैर ट्राली खाई में चली गई। चीख पुकार सुनकर गांव के लोग दौड़े आैर सभी को बाहर निकालने का प्रयास किया। कई लोगों को निकाल भी लिया।

घटना में आेम प्रकाश, मुनीष राजबहादुर, राजकुमार, शिवबहादुर, शिवराज सिंह, सुमित कुमार, पुष्पेंद्र पाल, रामशंकर, रामनरेश, आकाश शर्मा, सुरेश, बृजकिशोर, पंकज कुमार, सुनील कुमार, सचिन, शिवराज, शंकर पाल, महेश कुमार, वंशीलाल समेत करीब दो दर्जन को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हादसे की खबर मिलते ही परिवारजन जिला अस्पताल पहुंचे। मरने वालों में बालकराम, जिस लड़के का तिलक था, उसके मामा हैं। जबकि अन्य परिवार के लोग हैं।

इससे एक महीने पहले भी हरदोई में दर्दनाक हादसा हुआ था। हरियावा थाना क्षेत्र के भरगावा गांव में ट्रैक्टर-ट्रॉली पलटने के कारण चार महिलाओं और एक बच्चे समेत पांच लोगों की मौत हो गई थी, जबकि 29 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे। सामने से आ रही एक मोटरसाइकिल को टक्कर से बचाने के दौरान यह हादसा हुआ था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *