3 बच्चों के शव फंदे पर लटके मिले

उदयपुर। जिले के गोगुंदा क्षेत्र से एक ही परिवार के छह लोगों के शव मकान में मिले हैं। जिसमें एक दंपती और उसके चार बच्चे शामिल हैं। पुलिस ने प्रारंभिक जांच में इसे सामूहिक आत्महत्या बताया है।

माना जा रहा है कि परिवार के मुखिया ने सभी सदस्यों को मारने के बाद खुद भी आत्महत्या कर ली। हालांकि हत्या के नजरिए से भी पुलिस जांच में जुटी है। मौके पर पहुंची पुलिस ने फोरेंसिंक टीम को बुलाया और उसने साक्ष्य एकत्रित किए हैं।

मिली जानकारी के अनुसार उदयपुर जिले में गोगुंदा क्षेत्र के झाड़ोली के समीप गोल नेड़ी गांव के एक मकान में यह शव मिले हैं। तीन शव बिस्तर पर मिले, जिनमें दंपती तथा उनका एक बच्चा शामिल है। जबकि तीन बच्चों के शव फंदे पर लटके मिले हैं।

मौके पर पुलिस अधीक्षक विकास शर्मा के अलावा अन्य पुलिसकर्मी भी पहुंच चुके हैं। उन्होंने बताया कि मृतकों की पहचान हो चुकी है। इनमें परिवार का मुखिया 40 वर्षीय प्रकाश पुत्र सोहन लाल, उसकी 35 वर्षीया पत्नी दुर्गा, पांच वर्षीय बेटा गणेश, चार साल का पुष्कर, दो महीने का बेटा रोशन तथा चार महीने का मासूम भी शामिल है।

प्रारंभिक जांच में मामला सामूहिक आत्महत्या का लग रहा है। हालांकि बच्चों को मौत के बाद लटकाया या जिंदा ही फंदे पर लटकाया इसको लेकर जांच जारी है। उन्होंने बताया कि प्रकाश तीन महीने पहले तक गुजरात के सूरत से लौटा था।

वहां वह साफ-सफाई का काम करता था। बीमार होने के बाद वह गांव लौट आया और ग्रामीणों के मुताबिक वह अपनी बीमारी से बहुत परेशान था।

माना जा रहा है कि आर्थिक तंगहाली से परेशान होकर परिवार ने आत्महत्या जैसा कदम उठाया। गोगुंदा थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है। उदयपुर से फोरेसिंक लैब की टीम भी पहुंची है, जिसने साक्ष्य उठाए हैं।

पुलिस अधीक्षक विकास शर्मा का कहना है कि शवों को गोगुंदा के सामुदायिक स्वास्थ्य भवन के मुर्दाघर पहुंचाया गया है। जहां उनके पोस्टमार्टम कराए जाने की प्रक्रिया जारी है। रिपेार्ट से पता चलेगा कि उनकी मौत किन कारणों से हुई।

हालांकि उसके घर के पास ही उसके अन्य परिजनों के भी मकान हैं। जिनसे पुलिस प्रकाश के परिवार की आर्थिक स्थिति के बारे में पूछताछ कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.