टीन-शैड का समय से निर्माण करवाना सुनिश्चित करें

रुद्रप्रयाग :श्री केदारनाथ धाम यात्रा मार्ग पर साफ-सफाई की व्यवस्थाओं को लेकर जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने जिला कार्यालय में संबंधित रेखीय विभागों की बैठक ली। जिलाधिकारी ने केदारनाथ हैलीपेड़ व उसके आस-पास कूडे़ के बिखराव पर हैलीपैड का संचालन करने वाली कम्पनियों को नोटिस जारी करने हेतु जिला पर्यटन विकास अधिकारी को निर्देशित किया है। जिलाधिकारी ने स्पष्ट किया कि बैठक में जो भी दिशा-निर्देश दिये जा रहे हैं उसका हर दशा में 02 दिन के भीतर प्रभावी क्रियान्वयन करना सुनिश्चित करें अन्यथा की स्थिति में लापरवाही क्षम्य नहीं होगी।

जिलाधिकारी ने अधिशासी अधिकारी नगर पंचायत केदारनाथ को निर्देश दिये कि केदारनाथ में संकलित होने वाले कूड़े का विधिवत निस्तारण हेतु काॅम्पेक्टर मशीन को क्रय करने सम्बन्धी प्रस्ताव यथाशीघ्र उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें ताकि यात्रा समाप्त होते ही काॅम्पेक्टर स्थापित किया जा सके। जिलाधिकारी ने ईओ को यह भी निर्देश दिये हैं कि जिस स्थान पर काॅम्पेक्टर की स्थापना की जानी प्रस्तावित हैं वहां पर मशीन के रखरखाव के लिए टीन-शैड का समय से निर्माण करवाना सुनिश्चित करें।

नगर पंचायत केदारनाथ क्षेत्रान्तर्गत सफाई व्यवस्था चाकचैबन्द हो इस हेतु जिलाधिकारी ने सम्बन्धित ईओ को तैनात 45 सफाई नायकांे की दैनिक उपस्थिति व गणना की फोटोग्राफ उपब्लध कराने के निर्देश दिये हैं। जिलाधिकारी ने केदारनाथ पैदल यात्रा मार्ग व विभिन्न पड़ावों पर जमा हो रही लीद के प्रभावी निस्तारण जिसमें वर्तमान में उपलब्ध पिट की संख्या, अतिरिक्त पिट की आवश्यकता, गौरीकुण्ड तक लीद के कट्टों का ढुलान की तमाम व्यवस्थाओं के सम्बन्ध में व्यापक रिर्पोट उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।

यात्रा मार्ग पर पड़ने वाले स्वास्थ्य केन्द्रों के उत्पन्न होने वाले बायो मेडिकल वेस्ट के प्रभावी निस्तारण की व्यापक रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये हैं। जिलाधिकारी ने नोडल अधिकारी सफाई व्यवस्था केदारनाथ को निर्देश दिये कि यात्रा मार्ग पर पड़ने वाले स्थायी/अस्थायी शौचालयों, स्त्री/पुरुष शौचालयों व उनकी स्थिति के सम्बन्ध में व्यापक रिपोर्ट प्रस्तुत करना सुनिश्चित करें। आगमी 2-3 दिन में भारी बारीश की सम्भावनाओं के दृष्टिगत जिलाधिकारी ने केदारनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग के निमार्णाधीन कार्यों को तेजी से पूरा करने के निर्देश दिये हैं।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी नरेश कुमार, परियोजना निदेशक रमेश चंद्र, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ. बी.के. शुक्ला, अधिशासी अधिकारी नगर पंचायत अगस्त्यमुनि वीरेंद्र पंवार, केदारनाथ सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.