बाल विवाह, लिंग आधारित हिंसा पर निबन्ध लेखन करें

पौड़ी: मुख्य विकास अधिकारी अपूर्वा पांडे की अध्यक्षता में लैंगिक भेदभाव रोकथाम हेतु सामुदायिक नेतृत्व में राष्ट्रीय अभियान के संबंध में विकास भवन में बैठक आयोजित की गई। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि जिन विभागों को जो जिम्मेदारी दी गई है वह गंभीरता से लेते हुए आवश्यक कार्यवाही करना सुनिश्चित करें।
मुख्य विकास अधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि लैंगिक समानता को बढ़ावा देने संबंधित राष्ट्रीय अभियान के अन्तर्गत प्रथम सप्ताह में अधिक से अधिक गतिविधियां आयोजित करें तथा सभी गतिविधियों का दस्तावेजिकरण कर फोटोग्राफ्स के साथ उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।

उन्होंने मुख्य शिक्षाधिकारी को निर्देशित किया कि लैंगिक भेदभाव से दूर रहने हेतु स्कूली छात्र-छात्राओं के माध्यम से जन जागरूकता रैली निकाने तथा बाल श्रम, बाल विवाह, लिंग आधारित हिंसा पर निबन्ध लेखन भी करें। उन्होंने ग्राम विकास विभाग को भी लैंगिक समानता, लिंग आधारित हिंसा के प्रति सभी कार्मिकों, क्षेत्र स्तरीय कार्मिकों व परियोजना कार्यान्वयन एजेंसी का उन्मुखीकरण करने को कहा।

उन्होंने महिला एवं बाल विकास विभाग को समूह, ग्राम संगठन, संकुल संगठन एवं ग्राम स्तर पर विभिन्न गतिविधियां करने के निर्देश दिये। साथ ही उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में चिकित्साधिकारियों व एएनएम को हिंसा संबंधित समस्याओं के लिए सेवाओें का उपयोग करने वाली महिलाओं के लिये प्रथम उपचार कर प्रशिक्षण करने को कहा। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि जिन विभागांे को जो जिम्मेदारी दी गई है वह आवश्यक कार्यवाही करना सुनिश्चित करें।

इस अवसर पर पीडी डीआरडीए संजीव कुमार रॉय, जिला विकास अधिकारी पुष्पेंद्र सिंह चौहान, मुख्य शिक्षाधिकारी डॉ0 आंनद भारद्धाज, एडीपीआरओ नितिन नौटियाल, सहायक अभियंता नगर पालिका पवन कुमार सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.