मेले हमारी परंपरा एवं संस्कृति के संवाहक

रुद्रप्रयाग: त्रिजुगीनारायण में आयोजित द्वादशी मेले के समापन अवसर पर पशुपालन मंत्री/जिले के प्रभारी मंत्री सौरभ बहुगुणा मुख्य अतिथि और केदारनाथ विधायक शैला रानी रावत विशिष्ट अतिथि के तौर पर कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। जहां पर मेला समिति और स्थानीय लोगों ने उनका फूल मालाओं और स्मृति चिन्ह भेंट कर स्वागत किया। इस अवसर पर माननीय मंत्री द्वारा त्रिजुगी नारायण मंदिर पहुँच कर भगवान के दर्शन एवं पूजा-अर्चना कर प्रदेश की सुख-समृद्धि एवं खुशहाली की कामना की।
इस अवसर पर प्रभारी मंत्री सौरभ बहुगुणा ने कहा कि ग्रामीण अंचल में होने वाले मेले और सांस्कृतिक आयोजन हमारी परंपरा एवं संस्कृति के संवाहक हैं जो हमें आपस में जोड़े रखने का काम करते हैं। इस प्रकार के आयोजनों में सभी को सहयोग करने की जरुरत है ताकि आने वाली पीढ़ी हमारी संस्कृति को आगे बढ़ाने में अपना योगदान दें सकें।
  केदारनाथ विधायक शैला रानी रावत ने त्रिजुगी नारायण पहुँचने पर मंत्री सौरभ बहुगुणा का स्वागत करते हुए कहा कि सरकार प्रदेश के अंतिम व्यक्ति का विकास करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। कई महात्वाकांक्षी योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। युवा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के कुशल नेतृत्व में विकास की योजनाओं को धरातल पर उतारा जा रहा है।
इससे पूर्व माननीय मंत्री और विधायक ने जीएमवीएन परिसर में स्थानीय ग्रामीणों की समस्याएं भी सुनी। त्रिजुगी नारायण की प्रधान प्रियंका तिवाड़ी ने माननीय मंत्री और विधायक से तोषी तोक से राजकीय प्राथमिक विद्यालय किमाना तक मेरी गांव मेरी सड़क योजना के तहत सड़क निर्माण करवाने की मांग की।
वहीं तोषी के प्रधान जगत सिंह ने त्रिजुगी नारायण ने तोषी तक आपदा के कारण टूट चुकी पुलियाओ के पुनर्निर्माण की मांग उठाई। साथ ही त्रिजुगी नारायण से तोषी तक सड़क निर्माण करवाने की मांग भी की।
इस अवसर पर उप जिलाधिकारी जितेंद्र वर्मा, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ आशीष रावत,  समेत क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि एवं क्षेत्रीय जनता मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.