पटना विश्‍वविद्यालय छात्र संघ चुनाव में फायरिंग

पटना। पटना विश्वविद्यालय छात्र संघ चुनाव के लिए मतदान के दौरान जमकर हंगामा हुआ। वोटिंग से थोड़ी देर पहले पटना कालेज के गेट पर पांच से छह राउंड फायरिंग होने से दहशत फैल गई।

गोली चलाने का आरोप पटेल छात्रावास में रहने वाले लड़कों पर लग रहा है। वारदात में कुछ छात्र घायल भी हुए हैं। मतदान सुबह आठ बजे से शुरू हुआ, जो दोपहर दो बजे तक चला।

पटेल छात्रावास और जैक्‍सन छात्रावास के बीच मारपीट और संघर्ष के दौरान यह सब हुआ है। घटनाक्रम को कवर करने गए पत्रकारों पर भी हमला कर दिया गया। एक अखबार के फोटोग्राफर का कैमरा तोड़ दिया गया। हंगामा शांत करने पुलिस पर पथराव किया गया। इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर उपद्रवियों को खदेड़ा गया।

पटना विश्‍वविद्यालय छात्र संघ चुनाव में कुल 24,395 छात्र-छात्राओं को मतदान का अधिकार मिला था। इनमें कितने लोगों ने मत का इस्‍तेमाल किया, यह थोड़ी देर में सामने आ जाएगा। पांच केंद्रीय पैनल और 26 काउंसलर पद के लिए चुनाव के नतीजे भी आज ही देर रात तक आ जाएंगे।

इसको लेकर सुरक्षा के व्‍यापक इंतजाम किए गए थे। हर छात्र को कुल छह वोट डालने का मौका मिला। इनमें पांच केंद्रीय पैनल और एक काउंसलर का पद शामिल है।

मतदान के लिए कालेजों और संकाय मिला कर कुल 51 मतदान केंद्र बनाए गए थे। पटना वीमेंस कालेज में 5355 मतदाता हैं। यहां सात मतदान केंद्र बनाए गए थे। मगध महिला कालेज में 3488 मतदाता हैं। यहां आठ मतदान केंद्र गए थे। कालेज आफ आर्ट एंड क्राफ्ट में 221 मतदाता हैं। यहां एक मतदान केंद्र बनाया गया था।

वीमेंस ट्रेनिंग कालेज में 199 छात्राएं हैं। यहां एक बूथ बनाया गया था। पटना कालेज में 2452 मतदाता हैं। इसके लिए पांच मतदान केंद्र बनाया गया था। पटना ट्रेनिंग कालेज में 192 मतदाता हैं। यहां एक मतदान केंद्र पर मतदान हुुआ। पटना ला कॉलेज में 387 वोटर हैं। एक मतदान केंद्र बनाया गया था।

पटना साइंस कालेज में 1863 मतदाता हैं । इसके लिए चार मतदान केंद्र बनाए गए थे। वाणिज्य महाविद्यालय में 2008 मतदाता है । इसके लिए चार मतदान बनाए गए थे। एएन कालेज में 3209 मतदाता हैं । इसके लिए सात मतदान केंद्र बनाए गए थे। सोशल साइंस में 2243 मतदाता हैं। यहां पांच मतदान केंद्र पर मतदान होगा।

विश्‍वविद्यालय के पीजी साइंस संकाय में 1288 मतदाता हैं । यहां तीन मतदान केंद्र रहे। पीजी कामर्स, एजुकेशन में 561 मतदाता हैं। इसके लिए दो मतदान केंद्र बनाए गए हैं। मानविकी संकाय में 989 मतदाता हैं। इसके लिए दो मतदान केंद्र बनाए गए हैं।

आज ही दोपहर तीन बजे से बुद्धमार्ग स्थित पटना आर्ट्स कालेज में मतगणना होगी। निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण ढंग से चुनाव एवं मतगणना कराने के लिए पुलिस-प्रशासन ने तैयारी पूरी कर ली है। मतदान एवं मतगणना की वीडियोग्राफी कराई जाएगी।

साथ ही वहां आने वाले हर व्यक्ति की सीसी कैमरों से निगरानी होगी। इसे लेकर जिलाधिकारी डा. चंद्रशेखर सिंह और वरीय पुलिस अधीक्षक डा. मानवजीत सिंह ढिल्लों ने संयुक्तादेश जारी कर दिया है।

इसके तहत पटना विश्वविद्यालय के विभिन्न कालेजों में 14 निर्वाचन क्षेत्र बनाए गए हैं, जहां 33 दंडाधिकारियों की तैनाती की जाएगी। मतदान केंद्रों से बाहर वाले क्षेत्र में 35 और कंट्रोल रूम में 33 दंडाधिकारी सुरक्षित रहेंगे। वहीं, मतदान स्थल की 200 मीटर परिधि में धारा 144 लागू रहेगा। इस क्षेत्र में गाड़ी लेकर जाना व पांच व्यक्ति से अधिक का एक साथ होना प्रतिबंधित होगा।

भीड़ प्रबंधन, सुरक्षा, यातायात एवं विधि-व्यवस्था संधारण के लिए मतदान केंद्रों व बाहरी परिसर में पर्याप्त संख्या में बल की तैनाती रहेगी। कड़ी सुरक्षा के बीच मतपत्रों के बाक्स आर्ट्स कालेज पहुंचाए जाएंगे।

मतगणना स्थल पर डीएसपी, इंस्पेक्टर, दारोगा संवर्ग के पदाधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है। मतगणना शुरू होने से पहले बुद्ध मार्ग इलाके में वाहनों के सुगम परिचालन के लिए कुछ स्थानों पर डायवर्जन किया जाएगा। तीन पाली में जिला नियंत्रण कक्ष कार्य करेगा।

डीएम ने सभी प्रतिनियुक्त दंडाधिकारियों, पुलिस पदाधिकारियों, जवानों व चुनाव कार्य से जुड़े अधिकारियों एवं कर्मचारियों को समय से उपस्थित होने का निर्देश दिया है। वहीं, ट्रैफिक एसपी को चुनाव या मतगणना के दौरान आसपास के इलाकों में यातायात व्यवस्था सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया गया है। गांधी मैदान, कोतवाली, पीरबहोर एवं सुल्तानगंज थानाध्यक्षों को भ्रमणशील रहेंगे।

सिविल सर्जन को मतगणना स्थल एवं जिला नियंत्रण कक्ष में डाक्टर, पैरा मेडिकल स्टाफ, स्ट्रेचर एवं जीवन रक्षक दवाइयां उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया है। दोनों स्थानों पर एक-एक एंबुलेंस भी रहेंगी। यहां फायर ब्रिगेड की भी एक-एक यूनिट प्रतिनियुक्त की जाएगी। पेसू के महाप्रबंधक को प्रतिनियुक्ति स्थलों पर निर्बाध विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित कराएंगे।

वहीं, पटना विश्वविद्यालय के मुख्य चुनाव पदाधिकारी खगेंद्र कुमार को सभी मतदान केंद्रों पर भ्रमणशील रहकर चुनाव संबंधी अनियमितताओं एवं शिकायतों का अनुश्रवण कर त्वरित निष्पादन करेंगे, ताकि छात्रों में असंतोष या रोष की भावना उत्पन्न न हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published.