मौत के 11 महीने बाद पति ने मारा थप्पड़ !

प्रयागराज: प्रयागराज के करछना इलाके का रहने वाले फिरोज बिहार के सूरज गुप्ता की हत्याकर खुद को मृतक साबित करना चाहता था लेकिन वह कामयाब नहीं हो सका।

हैरान करने वाली कहानी थी लेकिन इससे पूर्व प्रयागराज में यही कहानी अल्लापुर के महेंद्र सिंह दोहरा चुका है। अंतिम संस्कार होने के बाद जब वह अपनी पत्नी की पिटाई करने पहुंचा तो लोगों ने सोचा कि घरवालों ने किसी भूत को देख लिया है।

दोबारा उसने ससुराल में विवाद किया तो ग्रामीणों ने पकड़ कर उसकी पिटाई कर दी। इसके बाद उसकी हैवानियत का पर्दाफाश हुआ। अब पुलिस ने हत्या के मामले में कार्रवाई के लिए उड़ीसा पुलिस से संपर्क किया है।

अल्लापुर निवासी महेंद्र सिंह की शादी सरायइनायत थानाक्षेत्र में रहने वाले मिथिलेश सिंह की बेटी के साथ 2013 में हुई थी। महेंद्र सिंह उड़ीसा में काम कर रहा था। 2021 में एक निजी लैब कंपनी में बतौर मैनेजर पद पर महेंद्र सिंह तैनात था।

उड़ीसा के बालासोर में वह रहता था। 15 जुलाई 2021 को महेंद्र सिंह ने वहां के मुन्ना भैया नाम के युवक की हत्याकर दी और उसके शव को जला दिया, ताकि पहचान ना हो सके। उसकी जगह पर अपनी आईडी रख दी थी।

अगले दिन उड़ीसा पुलिस को लगा कि प्रयागराज के रहने वाले महेंद्र सिंह की हत्या कर दी गई। पुलिस ने महेंद्र के परिजनों से संपर्क किया। आखिर में प्रयागराज में महेंद्र सिंह का अंतिम संस्कार कर दिया गया।

महेंद्र ने अपना इंश्योरेंस भी कराया था। परिजनों ने क्लेम करके इंश्योरेंस ले लिया। उसकी विधवा पत्नी अपने ससुराल में ही रहती थी। जुलाई 2021 में अंतिम संस्कार के बाद जून 2022 में महेंद्र सिंह अपने घर पहुंचा।

रात में पत्नी से मिला तो वहां पर विवाद हो गया। उसने पत्नी को थप्पड़ मार दिया। वह इंश्योरेंस की रकम चाह रहा था। पत्नी डर गई और चीख पड़ी लेकिन तब तक महेंद्र भाग चुका था। पुलिस को भी सूचना दी गई।

जॉर्जटाउन थाने की पुलिस भी पहुंच गई लेकिन किसी को विश्वास नहीं हुआ कि महेंद्र सिंह वहां पर पहुंचा था। इसके बाद महेंद्र की पत्नी अपने मायके चली गई। 6 जून 2022 को महेंद्र अपनी ससुराल पहुंचा और मारपीट करने लगा।

वहां पर ग्रामीणों ने महेंद्र को पकड़कर पीट दिया और सरायइनायत थाने में उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया। पुलिस ने जब जांच शुरू की तो महेंद्र ने स्वीकारा कि उसने मुन्ना भाई की हत्या की थी। पुलिस ने आरोपी को जेल भेज दिया और उड़ीसा पुलिस को कार्रवाई के लिए पत्राचार किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.