जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी आम जनमानस तक पहुंचेः रावत

रुद्रप्रयाग:जनपद रुद्रप्रयाग के अगस्त्यमुनि में 07 नवंबर से 11 नवंबर 2022 तक आयोजित होने वाले मंदाकिनी शरदोत्सव एवं कृषि एवं औद्योगिक विकास मेले को भव्यता के साथ आयोजित किए जाने के लिए की जाने वाली तैयारियों एवं व्यवस्था के लिए विधायक केदारनाथ श्रीमती  शैलारानी रावत की अध्यक्षता में विकास खंड सभागार  अगस्त्यमुनि में बैठक आयोजित की गई। बैठक में जिला स्तरीय अधिकारियों, जनप्रतिनिधियों एवं मेला समिति के पदाधिकारियों ने प्रतिभाग किया।

बैठक की अध्यक्षता करते हुए विधायक केदारनाथ शैलारानी रावत ने उपस्थित अधिकारियों से कहा कि मंदाकिनी शरदोत्सव मेले को भव्यता के साथ आयोजित किए जाने के लिए सभी विभागीय अधिकारी एवं मेला समिति के पदाधिकारी आपसी समन्वय के साथ सभी तैयारियां एवं व्यवस्था समय से पूर्ण कर लें। विधायक ने सभी अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि यह एक कृषि एवं औद्योगिक विकास मेला भी है, जिसके माध्यम से सरकार की ओर से संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी आम जनमानस तक पहुंचाना भी है।

जिसके लिए सभी विभागों के अधिकारी अपने विभागीय स्टॉल लगाना सुनिश्चत करें, ताकि अधिकाधिक लोगों को योजनाओं की जानकारी प्राप्त हो व लोग इनका लाभ ले सकें। उन्होंने कहा कि मेले एवं महोत्सव हमारी संस्कृति की पहचान हैं, जिसके माध्यम से आपसी मेलजोल एवं भाईचारा बढ़ता है वहीं दूसरी ओर सरकारी योजनाओं की जानकारी एक ही स्थान पर आम लोगों को उपलब्ध होती है।

उन्होंने कहा कि जनपद में महिला समूहों द्वारा भी  बेहतर कार्य हो रहे हैं एवं वे कई उत्पाद भी तैयार कर रही हैं, इस मेले में ऐसे समूहों को प्राथमिकता देते हुए उनके स्टॉल लगाए जाएं। इससे हमारे क्षेत्र के स्थानीय उत्पादों एवं महिलाओं को उचित मंच उपलब्ध होने के साथ ही व्यावसायिक लाभ मिलेगा।

विधायक ने सभी विभागीय अधिकारियों एवं मेला समिति के पदाधिकारियों से कहा कि इस मेले में आने वाले अतिथियों के लिए बेहतर व्यवस्था सुनिश्चत कराई जाए। उन्होंने अधिशासी अधिकारी नगर पंचायत को मेले में साफ-सफाई व्यवस्था सुनिश्चत करने एवं मोबाइल शौचालय की व्यवस्था करने के निर्देश दिए।

विद्युत विभाग को मेले की भव्यता एवं आकर्षक बनाने के लिए उचित लाइटिंग व्यवस्था सुनिश्त करने एवं विद्युत आपूर्ति बाधित न हो इसके  के उचित व्यवस्था बनाने के निर्देश दिए। जल संस्थान को पेयजल व्यवस्था सुचारू रखने रखने एवं पुलिस को मेले में शांति व अनुशासन व्यवस्था करने के साथ ही यातायात प्रबंधन की उचित व्यवस्था करने को कहा।

मुख्य विकास अधिकारी नरेश कुमार ने सभी विभागीय अधिकारियों से कहा कि मेले को भव्य एवं आकर्षक बनाने के लिए उनके स्तर से जो भी तैयारियां एवं व्यवस्था की जानी हैं, एवं जनकल्याणकारी योजनाओं के स्टॉल लगाए जाते हैं, उनके लिए सभी आवश्यक व्यवस्था समय से पूर्ण कर ली जाएं।

सभी स्टॉलों के माध्यम से सरकार द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी क्षेत्रीय जनता को उपलब्ध करवाई जाए, जिससे आम जनमानस को योजनाओं का लाभ ले सकें। मेले का मुख्य आकर्षण सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं विभिन्न खेलकूद प्रतियोगिताएं होंगी। जिसके लिए महिला मंगल दलों, युवक मंगल दलों की ओर से भी प्रतिभाग किया जाएगा, जिसके लिए अनिवार्य तैयारियां व व्यवस्थाएं आपसी समन्वय के साथ समय से पूर्ण कर ली जाएं।

बैठक का संचालन खंड विकास अधिकारी अगस्त्यमुनि प्रवीण भट्ट ने किया।
इस अवसर पर अध्यक्ष नगर पंचायत अगस्त्यमुनि श्रीमती अरुणा बेंजवाल, जिला विकास अधिकारी मनविंदर कौर, मेला अधिकारी एवं उपजिलाधिकारी अपर्णा ढौंडियाल, संयोजक  विक्रम सिंह नेगी, महासचिव हर्षवर्धन बेंजवाल, थाना अध्यक्ष अगस्त्यमुनि योगेंद्र सिंह सहित संबंधित अधिकारी, मेला समिति के पदाधिकारी एवं जनप्रतिनिधि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.