महिलाओं को उनके अधिकारों की जानकारी दी

रुद्रप्रयाग :महिलाओं के साथ होने वाले भेदभाव एवं अत्याचार के खिलाफ राजकीय इंटर काॅलेज रुद्रप्रयाग के छात्र- छात्राओं ने जागरुकता रैली निकालकर आवाज उठाई। छात्र-छात्राओं ने लैंगिग भेदभाव के विरोध में नारे लगाई साथ ही महिलाओं को उनके अधिकारों की जानकारी भी दी।

ग्रामीण विकास मंत्रालय, भारत सरकार की पहल के अंतर्गत जनपद रुद्रप्रयाग में जिला मिशन प्रबंधन इकाई के तत्वाधान में 25 नवंबर से 23 दिसंबर 2022 तक लैंगिग भेदभाव के विरोध में इसी प्रकार अभियान चलाया जाएगा।

परियोजना निदेशक रमेश चंद्र ने पूरे अभियान की जानकारी छात्र-छात्राओं को देते हुए बताया कि ग्रामीण विकास मंत्रालय की ओर से देशभर में महिलाओं को उनके अधिकारों के प्रति जागरुक करने एवं लैंगिग भेदभाव को दूर करने के लिए यह अभियान चलाया जा रहा है।

उन्होंने छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए समाज की इस कुरीति के खिलाफ सजग एवं सक्रिय होकर हर मंच पर आवाज उठाने की अपील की। कहा कि स्कूलों में पढ़ाई कर रहे छात्र ही आने वाले समय में समाज की कमान संभालेंगे, अगर अभी से उनकी आदत एवं व्यवहार में ऐसी कुरीतियां समाप्त करने की भावना होगी तो आगे चलकर निश्चित रूप से इसमें सफलता मिलेगी।

जिला उद्यान अधिकारी योगेंद्र चैधरी ने छात्राओं को अपने रोजमर्रा के जीवन में लैंगिग भेदभाव से जुड़ी घटनाओं को दबाने की बजाय अपने परिजनों एवं शिक्षकों के समक्ष उठाने की अपील की। कहा कि अपने अधिकारों एवं कानून की संपूर्ण जानकारी रखने के साथ ही समस्याओं को उचित मंच पर उठाने के लिए हमेशा तत्पर रहें।

जिला विषय विशेषज्ञ एनआरएलएम योगेश गौड़ ने समाज कल्याण, ग्राम्य विकास, पुलिस प्रशासन समेत अन्य विभागों द्वारा महिलाओं के सशक्तीकरण एवं उत्थान के लिए चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं एवं हेल्पलाइन नंबरों की जानकारी छात्र-छात्राओं को दी।

इस अवसर पर राइंका रुद्रप्रयाग के प्रधानाचार्य राजवीर भदौरिया सहित एनआनएलएम के विनय बत्र्वाल, अंकित रावत, सुबोध रावत, सुलोचना नेगी आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.