पेंटिंग-पोस्टर को सार्वजनिक स्थल पर प्रदर्शित करने वाले बैनर पोस्टर में सम्मिलित करें

पौड़ी: कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी डॉ0 विजय कुमार जोगदण्डे की अध्यक्षता में नार्काे को-ऑर्डिनेशन सेंटर,(एन.सी.ओ.आर.डी.) समिति की मासिक बैठक आयोजित की गयी।

‘‘ड्रग फ्री इंडिया‘‘ मुहीम के तहत शासन के दिशा-निर्देशों के अनुक्रम में जनपद में मासिक बैठक के अन्तर्गत जिलाधिकारी ने नशामुक्ति, नशीले पदार्थों के अवैध उत्पादन रोकथाम और नियंत्रण के संबंध में पूर्व में दिये गये विभागों को निर्देशों की अनुपालन आख्या का विवरण प्राप्त किया।

उन्होंने नेशनल मेंटल हेल्थ प्रोग्राम के अन्तर्गत स्वास्थ्य विभाग को विभिन्न विद्यालयों, बाल गृहों अथवा महत्वपूर्ण संस्थानों में नशा मुक्ति के विरुद्ध जनजागरूकता कार्यक्रम आयोजित करने तथा महत्वपूर्ण स्थलों पर नारकोटिक्स, नशा मुक्ति रोकथाम आधारित थीम पर विभिन्न विभागों के समन्वय से डिस्प्ले बोर्ड, पोस्टर और बैनर चस्पा करने को निर्देशित किया। उन्होंने जनपद में स्थित नशा मुक्ति केंद्रों का समय-समय पर औचक निरीक्षण करने तथा सरकारी अस्पतालों में नेशनल मेंटल हेल्थ के तहत किये गये उपचार और दिये गये सर्टिफिकेट इत्यादि का कंपाइल विवरण प्रस्तुत करने के निर्देश दिये।

जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग को समय-समय पर इस संबंध में जन- जागरूकता कार्यशाला आयोजित करने के निर्देश देते हुए कहा कि विभिन्न विद्यालयों के बच्चों द्वारा इस थीम पर आधारित तैयार की गयी पेंटिंग-पोस्टर को भी सार्वजनिक स्थल पर प्रदर्शित करने वाले बैनर पोस्टर में सम्मिलित करें। जिलाधिकारी ने आबकारी विभाग को जनपद में अफीम व भांग की खेती के दिये गये लाइसेंस तथा विभिन्न स्थानों पर आवश्यकतानुसार लगाए गये सीसीटीवी कैमरे इत्यादि की कार्यवाही की अनुपालन आख्या का विवरण प्रस्तुत करने के भी निर्देश दिये।

उन्होंने वरिष्ठ औषधि निरीक्षक डॉ0 सुधीर कुमार को जनपद के विभिन्न क्षेत्रों में स्थित मेडिकल स्टोर का लगातार व नियमित औचक निरीक्षण करने तथा वहां पर यदि किसी भी तरह अवैध ड्रग की बिक्री की जाती है तो उन पर कठोर कार्यवाही करने के निर्देश दिये। साथ ही जिन मेडिकल स्टोर के संचालकों द्वारा अभी तक सीसीटीवी कैमरे नही लगाये गये है उनको नोटिस निर्गत करने के पश्चात सख्त वैधानिक कार्यवाही करने के निर्देश दिये।

आयोजित बैठक में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक यशवंत सिंह चौहान ने औषधि निरीक्षक, आबकारी विभाग, समाज कल्याण इत्यादि सभी संबधित विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया कि यदि वे फील्ड में कोई संयुक्त निरीक्षण करते हैं तो उनको पुलिस द्वारा अपेक्षित सहयोग प्रदान किया जायेगा। उन्होंने सभी संबंधित विभागों को औचक निरीक्षण की सूचना पुलिस से भी समय-समय पर साझा करने को कहा। साथ ही भविष्य में कोई कार्ययोजना होती है उसको सभी संबंधित विभागों से साझा करने के निर्देश दिये।

आयोजित बैठक में डीएफओ मुकेश कुमार, सीएमओ डॉ0 प्रवीण कुमार, संभागीय परिवहन अधिकारी अनीता चंद, वरिष्ठ औषधि निरीक्षक डॉ0 धीरेन्द्र कुमार, जिला आबकारी अधिकारी के. पी. सिंह, सहित संबंधित अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.