जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़

श्रीनगर. जम्मू में आतंकवादी समूह जैश-ए-मोहम्मद (जेएम) के तीन संदिग्ध सदस्यों को गिरफ्तार कर बड़ी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद बरामद किया गया है. बीते मंगलवार और बुधवार की मध्यरात्रि में जम्मू के त्रिकुटा नगर थाने की पुलिस ट्रैफिक कंट्रोल कर रही थी.

इस बीच सड़क पर मौजूद एक टैंकर को पुलिसकर्मियों ने आगे बढ़ने को कहा. लेकिन चालक टैंकर लेकर वहीं लेकर रुका. इसके कुछ देर बाद वह टैंकर लेकर आगे बढ़ा लेकिन नरवाल रोड पर रोक दिया.

वहीं जब भीड़ कम हो गई तो पुलिसकर्मियों ने देखा कि टैंकर चालक अभी भी गाड़ी लेकर खड़ा है. इसके बाद पुलिस ने चालक से पूछताछ शुरू की तो जवाब देने की जगह उसके साथ मौजूद दो लोगों ने पुलिसकर्मियों से हाथापाई शुरू कर दी. इसके बाद पुलिसकर्मी चालक और उसके दो साथियों को थाने ले गए और मामला दर्ज किया.

पुलिस के अनुसार सीमा पार बैठे जैश-ए-मोहम्मद का आतंकी कमांडर शहबाज खान इस पूरे मयूर को चला रहा था और उसके गुर्गे ही जम्मू से हथियारों की खेप को लेकर कश्मीर घाटी जा रहे थे.

माना जा रहा है कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई और पाकिस्तानी सेना ने ड्रोन के जरिए इन हथियारों को अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास कहीं गिराया था और वहीं से यह गुर्गे हथियार लेकर कश्मीर घाटी पहुंच रहे थे. तीनों के साथ अलग-अलग एजेंसियां पूछताछ कर रही हैं.

इसके बाद टैंकर चालक मो. यासीन पुत्र मोहम्मद इस्माइल, फरहान फारूक और फारूक अहमद को गिरफ्तार कर लिया गया. वहीं औपचारिकताओं के बाद, आरोपियों के संबंधित पुलिस थानों को किसी अन्य मामले में उनकी संलिप्तता के संबंध में एक संकेत भेजा गया था ताकि उनके पूर्ववृत्त को जाना जा सके.

इस पर पता चला कि ट्रक का चालक अवंतीपुर में एक ULAP मामले में शामिल है. संबंधित पुलिस स्टेशन की रिपोर्ट के अनुसार वह जैश-ए-मोहम्मद का करीबी सहयोगी भी है.

इसके बाद लिस पार्टी ने बीती रात असामान्य व्यवहार के पीछे के कारण और आतंकवादियों से संबंध के बारे में पूछताछ शुरू की तो ड्राइवर मोहम्मद यासीन ने खुलासा किया कि वे जैश-ए-मोहम्मद के एक हैंडलर शाहबाज के इशारे पर हथियार लेने जम्मू आए हैं.

जो पाकिस्तान में है और उसे घाटी में एक आतंकवादी को सौंपने के लिए कहा गया था. साथ उसने यह भी कबूल किया कि उसने तेल टैंकर में हथियारों और गोला-बारूद की एक खेप छिपाई है.

इस पर एक मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में टैंकर की फिर से तलाशी ली गई और उसके पास से 3 एके-56 राइफल, एक पिस्टल, 09 मैगजीन, 191 राउंड गोला बारूद, 6 ग्रेनेड बरामद हुए. इस मामले में जम्मू पुलिस के लगातार प्रयास से 3 व्यक्तियों की गिरफ्तारी हुई, जिसमें 2 आतंकवादी सहयोगी शामिल हैं और हथियारों और गोला-बारूद की भारी खेप की बरामदगी संभव है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.