कपड़े की दुकान में सिरफिरे ने लगा दी आग, दो दुकानें राख

अल्मोड़ा : दन्या क्षेत्र में एक संदिग्ध ने रेडीमेड दुकान में आग लगा दी। आग तेजी से भड़की और पास की एक और दुकान को चपेट में ले लिया। जिससे दोनों दुकानें जलकर राख हो गईं और व्यापारियों का लाखों का नुकसान हो गया। घटना के बाद से व्यापारियों में रोष व्याप्त है। व्यापारियों ने जल्द आरोपित को गिरफ्तार करने की मांग की है।

घटना शुक्रवार देर रात करीब एक बजे की है। दन्या बाजार स्थित मोहन सिंह की रेडीमेड की दुकान और सुभाष चंद्र जोशी की मोबाइल की दुकान में अचानक आग लग गई ( fire in a clothes shop) । पिथौरागढ़ को जा रहे एक आल्टो चालक ने रात में दुकान में आग लगते हुए देखा। उसने अगल-बगल की दुकानों में लिखे मोबाइल नंबरों में काल किया।

जिसके बाद कुछ लोग एकत्र हुए। जिसके बाद लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड व आम लोगों की कड़ी मशक्कत से पांच घंटे बाद सुबह करीब 6 बजे आग पर काबू पाया गया। दोनों व्यापारियों का लाखाें का नुकसान हुआ है।

घटना के बाद जब पुलिस ने आस-पास के सीसीटीवी का निरीक्षण किया। पास ही में सहकारी बैंक में सीसीटीवी लगा हुआ था। घटनास्थल के पास सहकारी बैठक के अलावा, ट्रेजरी, सब पोस्ट आफिस, स्टेश बैंक हैं। बैंक आग में बाल-बाल बचा।

सीसीटीवी फुटेज में एक व्यक्ति दुकान में आग लगाते हुए दिखाई जा रहा है। उसे मोहन सिंह की रेडीमेड की दुकान में आग लगाते हुए देखा गया। सीसीटीवी में फिलहाल आरोपित युवक की ठीक से पहचान नहीं हो पाई। पुलिस नुकसान का आंकलन करने में जुटी हुई है।

घटना के बाद से व्यापारियों में खासा रोष व्याप्त है। व्यापार संघ के नगर अध्यक्ष पूरन बिष्ट, गोविंद जोशी, आदि ने कहा कि घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। रात के समय बाजार में पुलिस गश्त भी नहीं की जाती है। जिससे अराजक तत्वों के हौंसले बुलंद है। जल्द ही पुलिस आग लगाने वाले को गिरफ्तार करें। अगर कार्रवाई नहीं होती तो फिर आंदोलन को बाध्य होना पड़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.