खदान में काम करने वाला मजदूर बना रातोंरात करोड़पति

उदय दिनमान डेस्कः एक खदान में काम करने वाले मजदूर के बारे में जरूर जानना चाहिए जिसकी किस्मत अचानक से ऐसे बदली की वह रातोंरात करोड़पति बन गया. यह हुआ कैसे तो चलिए हम आपको बताते हैं. दरअसल, ये घटना है अफ्रीका महाद्वीप के पूर्वी भाग में स्थित तंजनिया देश की.

अलजजीरा की रिपोर्ट के मुताबिक, तंजानिया की खदान में काम करने वाले सानिन्यू लाइजर नामक व्यक्ति को खदान में काम करने के दौरान गहरे बैंगनी-नीले रंग के दो रत्न मिले. लाइजर को यह रत्न देश के उत्तर में तंजानाइट की खानों में से एक में मिले.

इस इलाके को दीवार से घेरा हुआ है ताकि रत्न की तस्करी को नियंत्रित किया जा सके. खदान मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा कि पहले रत्न का वजन 9.27 किलोग्राम है, जबकि दूसरे का वजन 5.103 किलोग्राम है.

बता दें, तंज़नाइट एक रत्न है जो केवल पूर्वी अफ्रीकी राष्ट्र के एक छोटे से उत्तरी क्षेत्र में पाए जाते हैं. इन अनमोल रत्नों के एवज में तंजानिया की सरकार ने 7.74 अरब तंजानियन शिंलिंग का भुगतान किया है. यह रकम अमेरिकी डालर में करीब 33.5 लाख डालर और भारतीय मुद्रा में करीब 25 करोड़ 36 लाख रुपये के बराबर है.

सानिन्यू को सरकार ने जो चेक दिया उसका पूरा कार्यक्रम टीवी पर आयोजित किया गया. इस मौके पर खदान मंत्रालय के सचिव सिमोन मंजिला ने कहा कि आज की घटना… मीरानी में खनन गतिविधियों की शुरुआत के बाद से इतिहास में दो सबसे बड़े तंजानाइट रत्न पाए गए हैं. रिपोर्ट के अनुसार, इस मौके पर देश के राष्ट्रपति जॉन मैगुफुली ने सानिन्यू लाइजर को फोन पर बधाई दी.

इन रत्नों को तंजानिया के एक बैंक ने खरीदा है. तस्वीरें सेशल मीडिया पर वायरल हो रही है. गौरतलब है कि तंजानिया में पिछले वर्ष ही एक कानून बनाया गया जिसके तहत देश का कोई बी नागरिक खनन कर सोोना या रत्न सरकार को बेच सकता है. खनन का कार्य वहां सरकार नहीं कराती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *