मॉनसून ने फिर पकड़ी रफ्तार

नई दिल्लीः सितंबर माह का पहला सप्ताह बीत चुका है और पहला पखवाड़ा भी खत्म होने को है, लेकिन देश के कई राज्यों में अभी भी मानसून सक्रिय है। भारत के कई राज्यों में भारी बारिश का पूर्वानुमान जताया गया हैै।

इन राज्यों में बिहार, झारखंड भी शामिल हैं, जहां अगले कुछ दिनों तक अच्छी बारिश होने की उम्मीद ह। वहीं उत्तरी बिहार के ज्यादातर इलाकों में तो भारी बारिश की चेतावनी दी गई है। जबकि दक्षिणी बिहार में सामान्य से मध्यम बारिश के आसार हैं।

मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक निम्न दबाव का क्षेत्र उत्तर आंध्र प्रदेश, दक्षिण ओडिशा तटों से पश्चिम-मध्य और उससे सटे उत्तर.पश्चिम बंगाल की खाड़ी पर स्थित है। इस कारण इन हिस्सों में अच्छी बारिश होगी।

इस बीच अगले 4 से 5 दिनों के दौरान गुजरात पूर्वी और दक्षिण प्रायद्वीपीय भारत में भारी वर्षा जारी रहने की संभावना है। अगले पांच दिनों के दौरान उत्तर-पश्चिम भारत के मैदानी इलाकों में हल्की बारिश की गतिविधियां जारी रह सकती हैं। वहीं राजधानी दिल्ली की बात की जाए तो राजधानी दिल्ली और उससे सटे इलाकों में फिलहाल बारिश की कोई संभावना नहीं है।

आईएमडी के मुताबिक दिल्ली में उमस भरी गर्मी का सिलसिला जारी रहेगा। वहीं राजधानी लखनऊ समेत यूपी के ज्यादातर जिलों में फिलहाल बारिश की कोई संभावना नहीं है। दूसरी ओर बिहार एवं झारखंड में अगले कुछ दिन तक अच्छी बारिश होने के आसार हैं।

उत्तरी बिहार के अधिकतर इलाकों में भारी और दक्षिणी बिहार में सामान्य से मध्यम बारिश की संभावना है। बंगाल की खाड़ी के ऊपर बने कम दबाव क्षेत्र के अगले 48 घंटे के दौरान और अधिक शक्तिशाली होने का अनुमान है। इसकी वजह से पश्चिम बंगाल और झारखंड में 11 सितंबर से भारी बारिश हो सकती है।

भारतीय मौसम विभाग यानी आईएमडी के अनुसार रायलसीमा और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक, तटीय आंध्र प्रदेश, उत्तरी आंतरिक कर्नाटक, केरल में 10 और 11 सितंबर को भारी वर्षा हो सकती है। तेज हवाएं चलने और बिजली चमकने की भी संभावना है। वहीं तेलंगाना की बात की जाए तो तेलंगाना के कई हिस्सों और तटीय कर्नाटक में भी 10 से 12 सितंबर की अवधि के बीच अच्छी बारिश होने के आसार हैं।

मौसम विज्ञान विभाग ने देश के पश्चिमी और पूर्वी हिस्सों में भारी बारिश का अंदेशा जताया है। आईएमडी के मुताबिक 10 से 13 सितंबर के दौरान गंगीय पश्चिम बंगाल के साथ ही गुजरात के सौराष्ट्र और कच्छ इलाकों में बिजली कड़कने और बादल गरजने के साथ भारी बारिश हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.