स्थानीय उत्पादों से निर्मित आचार, चटनी व जैम तैयार करवाया

रुद्रप्रयाग:भारतीय स्टेट बैंक ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान (आरसेटी) रुद्रप्रयाग द्वारा जनपद के विकास खंड जखोली के खलियाण बांगर गांव में 10 दिवसीय पापड़, अचार एवम मशाला पाउडर मेंकिग  प्रशिक्षण का हुआ समापन। प्रशिक्षण  में 32 महिलाओं ने प्रतिभाग किया। कार्यक्रम के समापन अवसर पर सभी प्रतिभागियों को आरसेटी के निदेशक किशन सिंह रावत, खलियांण की ग्राम प्रधान बिछना देवी व उपासक से आर.एफ.सी. नंद किशोर थपलियाल द्वारा को प्रमाण-पत्र वितरित किए गए।

आरसेटी के निदेशक द्वारा सभी को स्वरोजगार हेतु गावों में उपलब्ध कच्चे माल से निर्मित उत्पादों का निर्माण कर अपनी आर्थिक स्थिति मजबूत करने हेतु प्रेरित किया गया। कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण रहे कंडाली व कोदे के पापड़, मास्टर ट्रेनर अनीता शर्मा ने विभिन्न प्रकार के आचार व पापड़ प्रशिक्षण के दौरान निर्मित करवाए। इनमें मुख्यतः कंडाली, कोदे, सूजी, मैदा के पापड़ सहित स्थानीय उत्पादों से निर्मित आचार, चटनी, व जैम तैयार करवाया गया।
उपासक से आर.एफ.सी. नंद किशोर थपलियाल द्वारा एनआरएलएम से संबंधित विभिन्न विषयों पर जानकारी दी गई। प्रशिक्षण के दौरान आरसेटी के प्रशिक्षक भूपेंद्र सिंह रावत ने टाइम मैनेजमेंट मोटिवेशन, वस्तु का मूल्य निर्धारण करने के लिए वस्तु की लागत निकालना, इफेक्टिव कम्युनिकेशन आदि विभिन्न प्रकार के खेलों के माध्यम से प्रतिभागियों का मनोबल बढ़ाया। उत्तराखंड ग्रामीण बैंक खलियांण के शाखा प्रबंधक द्वारा प्रशिक्षण के दौरान सभी प्रतिभागियों को बैंकिंग संबंधी जानकारी दी गई।

इस अवसर पर ग्राम प्रधान बिछना देवी, नंद किशोर थपलियाल, भूपेंद्र सिंह रावत, प्रवीण सिंह, आरती देवी, सीमा देवी, सविता देवी, अंजली देवी, मनीषा, आशा देवी, रत्ना, बबिता आदि प्रशिक्षणार्थी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.