स्वतंत्रता की गौरवशाली घटनाओं व प्रेरणादायी भूले बिसरे नायकों को याद किया

पौड़ी:आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में देवप्रयाग रामघाट पर सांयकाल में गंगा आरती, भजन संध्या, वेद पाठ और दीप उत्सव कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में जिलाधिकारी गढ़वाल डॉ0 विजय कुमार जोगदण्डे द्वारा मुख्य अतिथि के रूप में प्रतिभाग करते हुए कार्यक्रम का शुभारंभ किया। जिलाधिकारी ने देवप्रयाग का पौराणिक, सांस्कृतिक और आध्यात्मिक महत्व बताते हुए कहा कि आजादी के 75 वर्ष पूर्ण करने के उपलक्ष्य में देशभर में आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है, जिसमें पर्यावरण संरक्षण, वृक्षारोपण, जल निकायों का जीर्णाेद्धार, स्वच्छता, प्लास्टिक व कूड़ा उन्मूलन, सामाजिक सौहार्द, राष्ट्रीय एकता व अखण्डता सांस्कृतिक विरासत को संरक्षित किया जा रहा है तथा स्वतंत्रता की गौरवशाली घटनाओं व प्रेरणादायी भूले बिसरे नायकों को भी याद किया जा रहा है।
जिलाधिकारी डॉ0 जोगदण्डें ने कहा कि यह हम सबका परम सौभाग्य है कि हमें देवप्रयाग के इस पवित्र स्थल पर कार्यक्रम करने का अवसर प्राप्त हो रहा है जहां राम मंदिर, शांता नदी, सीता के धरती समागम, लक्ष्मण मंदिर और दशरथांचल पर्वत व भागीरथी और अलकनंदा का संगम स्थित है। जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में आगामी 02 अक्टूबर को आयोजित होने वाले अमृत महोत्सव कार्यक्रम हेतु दो स्थलों देवप्रयाग का रामघाट और श्रीनगर का अलकेश्वर घाट का चयन किया गया है जहां पर स्थानीय महाविद्यालय, स्कूलों, विभिन्न विभागों और स्थानीय जनमानस द्वारा आध्यात्मिक, सांस्कृतिक महत्व और पर्यावरण संरक्षण से जुड़े कार्यक्रम भी आयोजित किए जाएंगे।
आयोजित कार्यक्रम में केंद्रीय संस्कृति विश्वविद्यालय तथा राजकीय इंटर कॉलेज देवप्रयाग के बच्चों द्वारा अतिथियों का स्वागत तथा वैदिक पाठ किया गया। उपस्थित सदस्यों ने गंगा आरती और दीप उत्सव कार्य भी संपन्न किया। जिलाधिकारी ने दीनदयाल अंत्योदय योजना राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के स्वंय सहायता समूह के स्टॉल का भी अवलोकन किया। इस दौरान दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत महिला स्वयं सहायता समूह निरंकार सहायता समूह कोट ब्लॉक तथा उमंग स्वयं सहायता समूह पौड़ी ब्लॉक द्वारा स्थानीय उत्पादों की स्टाल लगाई गई। जिलाधिकारी ने सम्बन्धित स्टॉल का भी अवलोकन किया।

कार्यक्रम में इस परियोजना निदेशक डीआरडीए संजीव कुमार राय, जिला विकास अधिकारी पुष्पेंद्र चौहान, उपजिलाधिकारी सदर आकाश जोशी, निदेशक रघुनाथ केंद्रीय विश्वविद्यालय प्रो0 एम0 चंद्रशेखर, नगरपालिका अध्यक्ष कृष्णकांत कोठियाल, प्रधानाचार्य राजकीय इंटर कॉलेज विक्रम सिंह लिंगवाल, खंड विकास अधिकारी कोट डी0सी0 बडोनी, समन्वयक एनआरएलएम धनंजय प्रसाद भट्ट सहित स्कूली बच्चे, विभागीय कार्मिक और सामान्य जनमानस उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.