18 साल की उम्र में शेफाली वर्मा ने रचा इतिहास

नई दिल्लीः एशिया कप में पाकिस्तान के खिलाफ हारने के बाद भारतीय महिला क्रिकेट ने बांग्लादेश के शानदार वापसी की. भारतीय टीम ने बांग्लादेश को 59 रनों से हरा दिया. भारत की तरफ से स्टार ओपनर शेफाली वर्मा (Shafali Verma) ने कमाल का खेल दिखाया. उन्होंने मैच में तूफानी पारी खेली. इसी के दम पर उन्होंने एक बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया.

बांग्लादेश के खिलाफ शेफाली वर्मा (Shafali Verma) ने कमाल का प्रदर्शन किया. उन्होंने 44 गेंदों में 55 रन बनाए, जिसमें 5 चौके और 2 लंबे छक्के शामिल थे. इसके अलावा उन्होंने गेंदबाजी में धार दिखाते हुए दो विकेट हासिल किए. उनके ऑलराउंड प्रदर्शन की वजह से ही टीम इंडिया जीत हासिल करने में कामयाब रही. उन्होंने मैच में बहुत ही ताबड़तोड़ बैटिंग की और तूफानी फिफ्टी लगाई.

बांग्लादेश के खिलाफ हाफ सेंचुरी लगाते ही शेफाली वर्मा (Shafali Verma) ने टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में अपने 1000 रन पूरे कर लिए हैं. उन्होंने 18 साल और 253 दिन में इस बड़े मुकाम छुआ है.

इसी के साथ टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में 1000 रन पूरे करने वाली सबसे युवा खिलाड़ी बन गईं हैं. उन्होंने अपने देश की ही जेमिमा रोड्रिगेज को पीछे छोड़ा. उन्होंने 21 साल 32 दिन की उम्र में 1000 टी20 इंटरनेशनल रन पूरे किए थे.

शेफाली वर्मा की हाफ सेंचुरी की बदौलत भारत ने एशिया कप में बांग्लादेश को जीतने के लिए 160 रनों का टारगेट दिया, जिसे बांग्लादेश टीम हासिल नहीं कर पाई और मुकाबला 59 रनों से हार गई. भारत के लिए शेफाली के अलावा स्मृति मंधाना ने 47 रन, जेमिमा रोड्रिगेज ने 35 रन बनाए.

इसके बाद गेंदबाजों ने बहुत ही कसी हुई गेंदबाजी की. भारतीय बॉलर्स के आगे बांग्लादेश के क्रिकेटर टिक ही नहीं पाए. दीप्ति शर्मा और शेफाली वर्मा (Shafali Verma) ने 2-2 विकेट हासिल किए. वहीं, रेणुका सिंह और स्नेहा राणा ने 1-1 विकेट चटकाया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.