ऋषिकेश में खुला प्रदेश का पहला ड्रोन प्रशिक्षण केंद्र

ऋषिकेश: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने ऋषिकेश के आईडीपीएल में प्रदेश के पहले ड्रोन प्रशिक्षण केंद्र (ग्रोथ सेंटर) का वर्चुअल उद्घाटन किया। यहां ड्रोन संचालन का प्रशिक्षण देकर स्किल्ड मैनपावर तैयार किया जाएगा।

पहले बैच में बीपीएल श्रेणी के 25 अभ्यर्थियों का चयन किया गया है। आईटीडीए से संबद्ध ऋषिकेश स्थित कंप्यूटर एकेडमी एंड लर्निंग सेंटर (कैल्क) ड्रोन प्रशिक्षण केंद्र को संचालित करेगा।

ड्रोन प्रशिक्षण केंद्र के उद्घाटन अवसर पर इन्फार्मेशन टेक्नोलॉजी डेवलपमेंट एजेंसी (आईटीडीए) की अपर निदेशक शशि सिंह ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उत्तराखंड को ड्रोन प्रदेश के रूप में विकसित करना चाहते हैं।

प्रदेश की भौगोलिक परिस्थितियों को देखते हुए ड्रोन प्रशिक्षित युवा रोजगार के बेहतर अवसर प्राप्त कर सकते हैं। यही कारण है कि प्रदेश के हर जिले में ड्रोन प्रशिक्षण केंद्र खोलने की योजना तैयार की गई है।

कैल्क के निदेशक वीरेंद्र सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश में रोजगार के नए आयाम स्थापित करने के लिए ड्रोन तकनीक बेहद कारगर साबित होगी। सरकार के सूचना प्रौद्योगिकी विभाग से संबद्ध आईटीडीए नए ड्रोन सेंटर खोलकर युवाओं को रोजगार से जोड़ने के लिए जुटा है।

सबसे पहले बीपीएल श्रेणी के अभ्यर्थियों को यह प्रशिक्षण दिया जा रहा है। प्रशिक्षण सेंटर में 25 सीटें उपलब्ध हैं। उन्होंने कहा कि पहले बैच का प्रशिक्षण जल्द शुरू होगा। सेंटर के संचालन में टीएचडीसी भी सहयोग कर रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.