रूद्रनाथ से ट्रेकिंग के लिए निकला दल फंसा, एक बंगाली पर्यटक की मौत

चमोली : रूद्रनाथ से ट्रेकिंग के लिए निकला एक दल मौसम खराब होने के चलते लाल माटी के पास फंस गया है। ट्रेकिंग दल में कुल सात लोग हैं। जिनमें रांसी‌ गांव के चार स्थानीय लोग व तीन बंगाली पर्यटक हैं।

स्थानीय लोगों की सूचना के अनुसार एक बंगाली पर्यटक की मौत हो गयी है और दो पर्यटकों का स्वास्थ्य भी खराब है। डीएफओ केदारनाथ इन्द्र सिंह नेगी को जब इसकी सूचना दी गयी तो उन्होंने बताया पनार‌ से वन विभाग की एक टीम को घटना स्थल के लिये रवाना किया गया है।

वहीं विगत दो अक्‍टूबर को रांसी-महापंथ-केदारनाथ ट्रेक पर बंगाल का 10 सदस्‍यीय दल ट्रेकिंग के लिए गया था। दल के आठ सदस्य तो सुरक्षित केदारनाथ लौट आए, लेकिन दो सदस्य बर्फ के बीच ट्रैक पर फंसे रह गए थे।

इनमें से एक ट्रेकर की ठंड के कारण मौत हो गई थी और एक को रेस्‍क्‍यू कर लिया गया था। दोनों ट्रेकर केदारनाथ से लगभग छह किमी दूर फंसे थे।

डीडीआरएफ व एनडीआरएफ की छह-सदस्यीय टीम चार पोर्टर के साथ रेस्क्यू के लिए रवाना हुई थी। लेकिन खराब मौसम और भारी बर्फबारी के कारण अब तक दूसरे ट्रेकर का शव नहीं लाया जा सका है।

उत्‍तरकाशी के द्रौपदी का डांडा (डीकेडी) की चोटी पर चार अक्‍टूबर को एवलांच आया था। इस एवलांच में नेहरू पर्वतारोहण संस्थान (निम) का प्रशिक्षु व प्रशिक्षक दल चपेट में आ गया था। इसमें 27 के शव बरामद कर लिए गए थे, जबकि अभी दो लापता हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.