जयकारों से गूंजा मां गंगा का धाम

उत्तरकाशी: अन्नकूट पर्व के मौके पर आज गंगोत्री धाम के कपाट शीतकाल के लिए 12:01 मिनट पर बंद कर दिए गए। इस दौरान मां गंगा का धाम जयकारों से गूंज उठा। कपाट बंद के समय बड़ी संख्या में तीर्थयात्री गंगोत्री धाम में उपस्थित रहे।

कपाट बंद होने के बाद मां गंगा की उत्सव यात्रा डोली को गंगोत्री धाम से शीतकालीन पड़ाव मुखबा के लिए प्रस्थान कराया गया। डोली यात्रा मारकंडेय पुरी स्थित चंडी देवी मंदिर में विश्राम के बाद गुरुवार को मुखबा पहुंचेगी।

श्री पांच गंगोत्री मंदिर समिति के अध्यक्ष रावल हरीश सेमवाल ने बताया कि विजयदशमी पर्व पर गंगोत्री धाम की कपाट बंदी का समय तय किया गया था। जिसके अनुसार सुबह धाम में कपाट बंद होने की प्रक्रिया शुरू की गई।

धाम से मां गंगा की उत्सव डोली यात्रा को 12:05 बजे अपने शीतकालीन पड़ाव मुखबा (मुखीमठ) के लिए रवाना किया गया। शीतकाल के छह माह मां गंगा की उत्सव डोली मुखबा स्थित मंदिर में विराजमान रहेगी।

यमुनोत्री धाम के कपाट गुरुवार को भैयादूज पर 12:09 बजे सर्व सिद्धि योग और अभिजीत मुहूर्त में बंद किए जाएंगे। मां यमुना की डोली अपने शीतकालीन पड़ाव खरसाली के लिए प्रस्थान करेगी।इस बार अभी तक गंगोत्री धाम में 624451 और यमुनोत्री धाम में 485635 तीर्थयात्री पहुंचे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.