उत्तराखंडः बारिश से कैंपटी फॉल उफान पर,बदरीनाथ हाइवे खुला

देहरादून। उत्तराखंड के चमोली में रात से रुकरुक कर हो रही बारिश से बदरीनाथ हाइवे बदरीनाथ हाईवे लामबगड़, कंचनगंगा, पागलनाला में बंद हो गयाा था, जिसे अब खोल दिया गया है।।

मसूरी में सुबह से जारी बारिश के चलते कैंपटी फॉल उफान पर है। मौसम विभाग के मुताबिक हरिद्वार, देहरादून, पौड़ी, टिहरी और चमोली में भारी बारिश की आशंका है। इसके लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। इससे पहले मौसम विभाग के अलर्ट के बावजूद प्रदेश में शनिवार को बारिश से राहत रही।

डोईवाला विकासखंड के अंतर्गत राजाजी राष्ट्रीय पार्क से सटे ग्रामीण इलाके बुल्लावाला में देर रात हुई बारिश से जंगल के नदी-नाले उफान पर आ गए हैं। पानी बुल्लावाला के कई घरों में घुसनेसे घर में रखा सामान खराब हो गया। वहीं, एक गाय बरसाती नाले में बह गई, जिसे ग्रामीणों ने बड़ी मुश्किल से बचाया।

बरसाती बाढ़ के पानी से प्रेम बहादुर, जीत बहादुर, गोपाल कांबोज और राजेंद्र क्षेत्री समेत कई ग्रामीणों के घरों में पानी घुसने से भारी नुकसान पहुंचा है। कई किसानों की गन्ने की फसल भी खराब हुई है।

कुमाऊं के पिथौरागढ़ जिले में अब तक हालात सामान्य नहीं हो पाए हैं। जिले के आपदा प्रभावित मुनस्यारी तहसील के आठ गांवों में खाद्यान्न संकट की आशंका गहराने लगी है। दो सप्ताह से हो रही बारिश के कारण हरकोट-चौना सड़क कई स्थानों पर क्षतिग्रस्त है।

इससे हरकोट, चौना, मटेला, मालूपाती, इमला, जोशा, गांधीनगर और ढूनामानी गांव अलग-थलग पड़ गए हैं। इन गांवों में खाद्यान्न नहीं पहुंच पा रहा है। इसके अलावा शुक्रवार रात थल-मुनस्यारी सड़क पर भारी मात्रा में मलबा आ गया।

सुबह दस बजे लोक निर्माण विभाग की टीम ने मलबा हटाकर यातायात बहाल कराया। धारचूला में तवाघाट-दारमा और बंगापानी-बरम मार्ग मोरी गांव तक खोल दिया गया है। बागेश्वर जिले में आठ सड़कें बंद रहने से आठ हजार से अधिक की आबादी प्रभावित है। चमोली जिले में भी सड़कों पर मलबा आने का सिलसिला जारी है।

शनिवार को बदरीनाथ हाईवे पर पांच घंटे आवाजाही बाधित रही। हालांकि गंगोत्री और यमुनोत्री हाईवे पर यातायात सुचारु है। राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के अनुसार रविवार को हरिद्वार, देहरादून, पौड़ी, टिहरी और चमोली में भारी बारिश की आशंका है। इसके लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *