बच्चों के साथ अवैध रूप से रह रही बांग्लादेशी महिला गिरफ्तार

हरिद्वार : पासपोर्ट और वीजा के बगैर अवैध रूप से अपने तीन बच्चों के साथ रानीपुर कोतवाली क्षेत्र के गांव में रह रही एक बांग्लादेशी महिला को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। महिला और बच्चों को कोर्ट में पेश किया गया है।

हरिद्वार के पिरान कलियर में कई बार बांग्लादेशी नागरिक गिरफ्तार हो चुके हैं। मुकदमा दर्ज होने के बाद पुलिस और एलआईयू की टीम उन्हें सीमा पार छोड़कर आती है। कुछ बांग्लादेशी नागरिक फिर से सीमा पार कर भारत पहुंच जाते हैं।

पिरान कलियर से ऐसे कई बांग्लादेशी नागरिक पूर्व में पकड़े जा चुके हैं। ताजा मामला रानीपुर कोतवाली क्षेत्र में सामने आया है। एसपी सिटी स्वतंत्र कुमार सिंह ने बताया कि एलआईयू को रानीपुर कोतवाली क्षेत्र के दादूपुर गांव में एक बांग्लादेशी महिला के अवैध रूप से रहने की सूचना मिली थी।

छानबीन करने के बाद पुलिस ने तीन बच्चों सहित महिला को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में महिला ने अपना नाम रहीमा पत्नी अली नूर उर्फ जावाद निवासी ग्राम हिरन थाना कोटालियारा जिला गोपालगंज बांग्लादेश बताया।

वह यहां कूड़ा बीनने का काम कर रही थी। महिला के खिलाफ विदेशी अधिनियम व अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। महिला और उसके बच्चों को कोर्ट में पेश किया गया है।लक्सर में रामकथा सुनकर घर वापस लौट रहे लोगों के साथ रास्ते में रोककर मारपीट किए जाने के मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है।

खानपुर थाना क्षेत्र के दल्लावाला गांव निवासी प्रमोद ने पुलिस को तहरीर देकर बताया कि उसका भाई महक सिंह व गांव के ही नितिन, प्रदीप पंद्रह अक्टूबर को रात के समय दल्लावाला गांव में रामकथा सुनकर घर वापस लौट रहे थे। कि दल्लावाला गांव निवासी विकास ने अपने आठ दस साथियों के साथ मिलकर रास्ता अवरुद्ध किया हुआ था।

उन्होंने रास्ता खोलने को कहा तो उक्त लोगों ने लाठी-डंडे से उन पर हमला कर दिया तथा उनके साथ मारपीट की। उनके शोर मचाने पर आसपास के लोग मौके पर आ गए।

जिस पर हमलावर जान से मारने की धमकी देते हुए मौके से फरार हो गए है। खानपुर थानाध्यक्ष अरविंद रतूड़ी ने बताया कि तहरीर पर विकास निवासी दल्लावाला व अन्य अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.