सोने-चांदी के रेट में बड़ी गिरावट

नई दिल्ली: पिछले कई दिनों से लगातार सोने चांदी के रेट घट रहे हैं। ऐसे में ग्राहक गोल्ड-सिल्वर खरीदने को लेकर उत्साहित हैं। कारोबारियों का भी मानना है कि इस साल धनतेरस दिवाली पर बंपर खरीदारी हो सकती है। आपको बता दें कि सर्राफा बाजार में सोना इस साल के रिकॉर्ड हाई से लगभग 3500 रुपये सस्ता मिल रहा है। वहीं, चांदी 15,000 रुपये तक सस्ती मिल रही है।

वैश्विक बाजारों में कीमतों धातुओं की कीमतों में गिरावट के बीच सर्राफा बाजार में सोने के दाम (Gold price today dhanteras) कम हुए हैं। इंडियन बुलियन एंड ज्वेलर्स एसोसिएशन  के मुताबिक, वर्तमान में 24 कैरेट सोने का भाव 50062 रुपये प्रति दस ग्राम है। इस साल 18 अप्रैल को सोना रिकॉर्ड हाई 53,603 रुपये पर पहुंच गया था। यानी सोना इस वक्त अपने रिकॉर्ड हाई से 3541 रुपये सस्ता मिल रहा है।

कैरेट वाइज सोने के लेटेस्ट भाव
24 कैरट सोने का लेटेस्ट भाव 50,062 रुपये प्रति 10 ग्राम है।
22 कैरेट सोने के दाम 45,857 रुपये प्रति 10 ग्राम है।
18 कैरेट सोने का लेटेस्ट रेट 37,547 रुपये प्रति 10 ग्राम है।
14 कैरेट का सोना 29,286 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बिक रहा है।

IBJA के मुताबिक, 1 किलो चांदी की कीमत रिकॉर्ड हाई (Silver price today dhanteras) से 15335 रुपये तक गिर गई है। बता दें कि इस साल 8 मार्च को चांदीद 70890 रुपये प्रति किलो पर पहुंच गई थी। वर्तमान में चांदी की कीमत 55555 रुपये पर आ गई है। यानी चांदी अपने रिकॉर्ड हाई से 15335 रुपये सस्ती मिल रही है।

इस सप्ताह की बात करें तो चांदी पिछले शुक्रवार के 56042 रुपये के मुकाबले इस शुक्रवार 55555 रुपये पर बंद हुई। यानी सप्ताहभर में 487 रुपये सस्ता हुआ है। आपको बता दें कि IBJA के रेट देशभर में सर्वमान्य है। हालांकि, इस वेबसाइट पर दिए गए रेट में जीएसटी शामिल नहीं किया गया है।

सोना खरीदते-बेचते समय आप IBJA के रेट का हवाला दे सकते हैं। इंडिया बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन के मुताबिक ibja देशभर के 14 सेंटरों से सोने-चांदी का करेंट रेट लेकर इसका औसत मूल्य बताता है। सोने-चांदी का करेंट रेट अलग-अलग जगहों पर अलग हो सकते हैं पर इनकी कीमतों में थोड़ा अंतर होता है।

अखिल भारतीय रत्न एवं आभूषण घरेलू परिषद (जीजेसी) के चेयरमैन आशीष पेठे ने कहा कि सोने की कीमतों में नरमी के बावजूद उद्योग जगत सर्तक है। इस समय सोने की कीमत 47,000 – 49,000 रुपये प्रति 10 ग्राम के आसपास है और आमतौर पर उपभोक्ताओं का रुख सकारात्मक है।

विश्व स्वर्ण परिषद के क्षेत्रीय मुख्य कार्यपालक अधिकारी (भारत) सोमसुंदरम पीआर ने कहा, ”एक प्रतीक के रूप में सोने की खरीद से इन त्योहारों के आसपास सकारात्मकता बढ़ती है। इसके अलावा, स्थानीय स्तर पर सोने की कीमतों में हुई कमी से उपभोक्ताओं की भावना सकारात्मक लग रही है।

”सेनको गोल्ड एंड डायमंड्स के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) सुवनकर सेन ने कहा कि कमजोर कीमतों से मांग पर बहुत अधिक असर नहीं होगा, क्योंकि कमजोर रुपये ने सोने की कीमतों में और गिरावट को रोक दिया है।

कल्याण ज्वैलर्स इंडिया के कार्यकारी निदेशक रमेश कल्याणरमन ने कहा कि ग्राहक असंगठित क्षेत्र के मुकाबले संगठित क्षेत्र को अधिक तरजीह दे रहे हैं और ऐसे में इस धनतेरस के दौरान संगठित कंपनियों को फायदा होगा।

पीएनजी ज्वैलर्स के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक सौरभ गाडगिल ने कहा कि त्योहारी मौसम की शुरुआत से ही यह साल काफी अच्छा रहा है। इसकी मुख्य वजह सोने के कीमतों में कमजोरी है।

उन्होंने कहा, ”हमें उम्मीद है कि यह रुझान धनतेरस और दिवाली के दौरान भी जारी रहेगा, क्योंकि आभूषणों की मांग मजबूत बनी हुई है। हम इस साल बिक्री में लगभग 20 प्रतिशत वृद्धि की उम्मीद कर रहे हैं।”

Leave a Reply

Your email address will not be published.