जर्जर दीवार ढहने से दो मासूम समेत तीन की मौत, चार घायल

बाराबंकी: बाराबंकी जिले में सुबेहा व देवा थाना क्षेत्र में दीवार गिरने से उसके नीचे दबकर दो बच्चों समेत तीन की मौत हो गई, जबकि चार घायल हुए हैं। हादसों के बाद परिजनों में कोहराम मचा है। सुबेहा थाना क्षेत्र के भभूतगढ़ी मजरे मंगौवा निवासी बुधवार बृहस्पतिवार की रात अपने बच्चों के साथ छप्पर के नीचे सोए थे।

सुबह देखा कि जिस दीवार पर छत पर रखा था वह भरभरा कर गिर पड़ी है। आनन फानन ग्रामीणों के सहयोग से मलबा हटाया गया, मगर तब तक नैना (4) की मौत हो चुकी थी। गंभीर रूप से घायल 6 वर्षीय रवि को ट्रामा सेंटर लखनऊ रेफर किया गया मगर उसकी भी मौत हो गई।

इससे पहले बृहस्पतिवार की देर रात देवा थाना क्षेत्र में दीवार गिरने से एक युवती की मौत हो गई, जबकि चार अन्य घायल हो गए। पुलिस के अनुसार, धरमपुर मजरे मोहनपुर गांव निवासी प्रताप बली रावत की बेहटा चक के बैरागीपुर निवासी 30 वर्षीय पुत्री साविता और लखनऊ के बख्शी का तालाब निवासी 25 वर्षीय पुत्री गायत्री भैया दूज के मौके पर अपने मायके धरमपुर आई थी। रात करीब नौ बजे कच्ची ईंटों से बनी दीवार अचानक गिर गई।

दीवार गिरने से उसके मलबे के नीचे सभी लोग दब गए। ग्रामीणों ने सभी को बाहर निकालकर एंबुलेंस से अस्पताल भिजवाया। गंभीर रूप से घायल सविता को लखनऊ रेफर किया गया मगर इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। जबकि राम प्रवेश, गायत्री, अर्जुन और एक अन्य घायल का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.