सावधान: भारी बारिश के आसार

देहरादून : प्रदेश में भारी वर्षा का दौर भले ही कुछ थमा हो, लेकिन हल्की से मध्यम बौछारों का क्रम बना हुआ है। कभी धूप तो कभी बौछारों का क्रम जारी है। वहीं देहरादून सहित तीन जिलों में भारी वर्षा के भी आसार बने हुए हैं।

बुधवार को भी दून समेत आसपास के क्षेत्रों में बौछारों का दौर जारी रह सकता है। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के अनुसार, प्रदेश के ज्यादातर क्षेत्रों में वर्षा का क्रम बना रह सकता है।कुमाऊं के ज्यादातर जिलों और गढ़वाल के देहरादून, टिहरी, उत्तरकाशी में कहीं-कहीं भारी वर्षा हो सकती है। अन्य क्षेत्रों में गरज के साथ बौछार पड़ने के आसार हैं।

वर्षा के कारण दिल्ली-यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग पर जुड्डो व लखवाड़ के बीच भूस्खलन से सैकड़ों तीर्थयात्री और स्थानी लोग घंटों तक फंसे रहे। मंगलवार सुबह करीब छह बजे बंद राष्ट्रीय राजमार्ग दोपहर में 12 बजे खुल पाया। छह घंटे तक दिल्ली-यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग के बंद होने से वाहनों की लंबी कतार लगी।

करीब छह घंटे तक यातायात पूरी तरह से ठप रहने पर यात्रा सीजन में यमुनोत्री जाने वाले तीर्थयात्री, नौगांव, बड़कोट, पुरोला, उत्तरकाशी, लखवाड़ समेत पूरे क्षेत्र से आवागमन करने वालों को रास्ता खुलने के लिए लंबा इंतजार करना पड़ा।

कृषि उपज से भरे वाहन भी फंसे होने से बागवानों व किसानों के चेहरे पर मायूसी दिखाई दी। लंबे समय से दिल्ली यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग का सुधारीकरण न होने की वजह से कई जगह खतरनाक स्थिति पैदा हो गई है।

पिछले एक साल से भी ज्यादा समय होने के बाद भी कालसी काली माता मंदिर के समीप धंसे राष्ट्रीय राजमार्ग को अभी तक ठीक नहीं कराया गया। इसके अलावा जुड्डो से लखवाड़ के बीच जगह-जगह दिल्ली-यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग बेहद खराब हालत में है।

जुड्डो लखवाड़ के बीच झरने के पास नया भूस्खलन जोन बनने से यात्रियों व वाहन चालकों को रोज ही दिक्कत हो रही है। यात्रा सीजन चलने के बाद भी एनएच के अधिकारी लापरवाह बने हुए हैं। भूस्खलन की वजह से जुड्डो व लखवाड़ बैंड के बीच में राष्ट्रीय राजमार्ग पर झरने के पास नए भूस्खलन जोन से मलबा गिरा और मंगलवार सुबह छह बजे यातायात अवरुद्ध हो गया।

दिल्ली-यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग पर किमी 33 जुड्डो व 38 लखवाड़ बैंड के पास भारी मात्रा में मलबा व बोल्डर आने की वजह से यातायात ठप होने पर यात्रियों को फाफी परेशानी हुई। दोनों तरफ सैकड़ों वाहनों की कतार लग गई। जिसमें कृषि उपज हरा धनिया, टमाटर, मूली, बीन्स, हरी मिर्च, अदरक, सेब आदि से भरे वाहन भी फंसे रहे।

सूचना मिलने पर अधिशासी अभियंता एनएच खंड देहरादून के जितेंद्र त्रिपाठी ने बंद राष्ट्रीय राजमार्ग पर जेसीबी लगवाई। बताया कि दोपहर 12 बजे मार्ग खोल दिया गया। उधर, एनएच खंड देहरादून के अधिशासी अभियंता जितेंद्र त्रिपाठी के अनुसार जुड्डो व लखवाड़ के बीच में नए भूस्खलन जोन की वजह से दिक्कत आ रही है। वर्षाकाल के बाद भूस्खलन जोन का ट्रीटमेंट कराया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.