बारिश से जनजीवन ठहरा, पर्यटक होटलों में दुबके

नैनीताल। सरोवर नगरी में पिछले दो दिन से हो रही बारिश से जनजीवन बुरी तरह से प्रभावित है। वीकेंड पर आए सैलानी होटलों में दुबकने को मजबूर हो गए हैं। इससे आउटडोर पर्यटन कारोबारी हाथ पर हाथ धरने को मजबूर हो रहे हैं। हालांकि लगातार बारिश से झील के जलस्तर में सुधार आया है।

नगर में 48 घंटे से बारिश का क्रम जारी है, अलबत्ता शनिवार सुबह से वर्षा का वेग तेज हो चला है। जिस कारण लोग घरों से बाहर नहीं निकल पा रहे हैं। तेज बारिश ने पर्यटकों की राह थाम ली है। जिस कारण होटलों में अपने कमरों में बैठे बारिश रुकने का इंतजार कर रहे हैं। इस बीच नाले उफान पर आ चले हैं और कई सड़कें भी जलमग्न हो चली हैं। इधर वीकेंड पर आने सैलानियों का पहुंचना जारी है।

मौसम का ऑरेंज अलर्ट होने कारण स्कूली बच्चों का अवकाश घोषित कर दिया गया था। इधर दूसरे शनिवार के चलते सरकारी छुट्टी होने के कारण कर्मचारी बारिश की फजीहत से बच गए। इधर गनीमत है कि नगर को आने वाले मार्ग खुले हुए हैं। दिहाड़ी मजदूर अपने कार्य से विरत रह गए। वर्षा 24 घंटे में 30 मिमी वर्षा रिकार्ड की गई।

वर्षा के चलते नगर के प्राकृतिक जलश्रोत रिचार्ज हो चले हैं। जिनसे नैनी झील के जल स्तर में वृद्धि होगी।भीमताल के फूलों की देशभर में फैली खुशबू, खरीदारी करने पहुंचने लगे कारोबारी, प्रदेश का 80 फीसद कारोबार यहीं से

इस बारिश से हल्की ठंड भी महसूस होने लगी है। लोगों को गर्म ऊनी कपड़े पहनने को मजबूर होना पड़ा। इधर नैनी झील का जल स्तर 10.5 फिट पहुंच गया है। जीआईसी मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार अधिकतम तापमान 24 व न्यूनतम 14 डिग्री सेल्सियस रहा। आद्रता अधिकतम 90 व न्यूनतम 65 फीसद रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published.