चारधाम समेत ऊंची चोटियों पर हिमपात से बढ़ी ठंड

देहरादून : चारधाम समेत ऊंची चोटियों पर हिमपात होने से उत्‍तराखंड के पहाड़ी इलाकों सहित मैदानी क्षेत्रों में ठंड बढ़ गई है। मौसम विभाग के अनुसार आज से वर्षा का क्रम धीमा पड़ सकता है।वहीं भारी बारिश के कारण रोकी गई फूलों की घाटी की यात्रा आज रविवार को तीसरे दिन सुचारू हो गई है।एसपी ने कहा कि ऊंचाई वाले क्षेत्रों में भी मौसम साफ है।

मौसम के चलते जिलाधिकारी के आदेश पर गंगोत्री नेशनल पार्क क्षेत्र में पर्यटकों की आवाजाही पर दो दिन तक रोक रही है। वर्षा के चलते किसी पर्यटक ने आवेदन भी नहीं किया था।रविवार की सुबह मौसम साफ होने के बाद पर्यटक पार्क के बैरियर पर पहुंचे तो पार्क टीम ने पर्यटकों ने जाने से मना कर दिया। जिसमें जिलाधिकारी के आदेशों का हवाला दिया।

पर्यटकों ने जब आक्रोश जताया तो पार्क कर्मियों ने उच्च अधिकारियों से बात की गई, जिसके बाद पार्क में जाने की अनुमति दी गई रविवार को 50 पर्यटक गोमुख गए। टिहरी में रविवार सुबह लगभग 11 बजे जाखणीधार के अन्तर्गत ग्राम मथल में एक आवासीय भवन क्षतिग्रस्त हो गया। जिसमे एक महिला मुन्नी देवी पत्नी स्व सुंदरू, 70 वर्ष आंशिक रूप से दब गयी।

महिला घर पर अकेले ही रहती थी। महिला को ग्रामीणों द्वारा सुरक्षित निकाल लिया गया। महिला को प्राथमिक उपचार दिया गया है। महिला के कंधे और सिर पर चोट आई है। महिला खतरे से बाहर है। महिला को बौराड़ी अस्पताल लाया जा रहा है।

वर्तमान में उत्तरकाशी जनपद के जिला मुख्यालय सहित सभी तहसील व गंगोत्री-यमुनोत्री धाम क्षेत्रों में बादल लगे हैं। रविवार को गंगोत्री हाईवे हेल्गूगाड़ के पास भूस्खलन के कारण अवरुद्ध था। बीआरओ द्वारा उक्त स्थान पर मार्ग सुचारू करने के लिए मशीन लगाई गई और मार्ग खोल दिया गया।

रविवार को यमुनोत्री हाईवे भी डाबरकोट के पास अवरुद्ध हो गया था। जिसे बाद में यातायात के लिए खोल दिया गया।विकासनगर-बड़कोट राष्ट्रीय राजमार्ग सुचारू है। वर्तमान में उत्तरकाशी जनपद के अन्तर्गत तीन ग्रामीण मोटर मार्ग अवरुद्ध हैं। सम्बन्धित विभाग द्वारा उक्त स्थानों पर मार्ग सुचारू करने के लिए मशीनें लगाई गई हैं।

मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार रविवार को प्रदेश में कहीं-कहीं बादल छाये रह सकते हैं। पर्वतीय क्षेत्रों में गरज के साथ बौछारें पड़ सकती हैं। मैदानी क्षेत्रों में देहरादून और आसपास हल्की से मध्यम वर्षा के आसार हैं।

इससे पहले शनिवार को ज्यादातर पर्वतीय क्षेत्रों में भूस्खलन से जगह-जगह मार्ग अवरुद्ध रहे। चारधाम समेत ऊंची चोटियों पर हल्का हिमपात हुआ। फूलों की घाटी और हेमकुंड साहिब यात्रा को मौसम के मद्देनजर रोक दिया गया। चारधाम यात्रा मार्गों पर भी बार-बार आवाजाही बाधित हो रही है।

पौड़ी में माल रोड पर सड़क किनारे भू-धसाव से गड्ढा बन गया। इस पर शहरवासियों ने एकत्रित होकर लोनिवि के प्रति नाराजगी जताई। मामले की गंभीरता को देखते हुए क्षेत्रीय विधायक राजकुमार पोरी मौके पर पहुंचे।

उन्होंने लोनिवि के ईई को मौके पर बुलाया। विभाग की ओर से गड्ढा भरान का कार्य शुरू किया। तब लोग शांत हुए। कार्य पूर्ण होने तक बडे वाहनों को बस स्टेशन से माल रोड के बजाए कंडोलिया रूट पर डायवर्ट किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.