भारत ने रिकार्ड 7वीं बार जीता महिला एशिया कप खिताब

नई दिल्ली: महिला एशिया कप 2022 के फाइनल मुकाबले में भारतीय महिला क्रिकेट टीम का सामना श्रीलंका की महिला क्रिकेट टीम के साथ हुआ। इस मैच में श्रीलंका की कप्तान ने टास जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया।

पहले खेलते हुए श्रीलंका की टीम भारतीय गेंदबाजी के सामने पूरी तरह से धराशाई हो गई और 20 ओवर में 9 विकेट पर 65 रन ही बना पाई और भारत को जीत के लिए 66 रन का लक्ष्य मिला। भारत ने जीत के लिए मिले लक्ष्य को 2 विकेट खोकर हासिल कर लिया और इस मैच को जीतते हुए एशिया कप 2022 का खिताब अपने नाम किया।

रेणुका सिंह को इस मैच में शानदार गेंदबाजी के लिए प्लेयर आफ द मैच चुना गया जबकि दीप्ति शर्मा को प्लेयर आफ द टूर्नामेंट चुना गया। इस जीत के बाद भारतीय महिला टीम ने जमकर जश्न मनाया।

भारतीय महिला टीम ने रिकार्ड 7वीं बार एशिया कप खिताब अपने नाम किया। भारत ने 2022 से पहले 2004, 2005-06, 2006, 2008, 2012 और 2016 में एशिया कप खिताब अपने नाम किया था। वहीं साल साल 2018 यानी पिछले सीजन में भारतीय टीम फाइनल में पहुंची थी, लेकिन उसे बांग्लादेश ने हराकर पहली बार ये खिताब अपने नाम किया था। यानी लगातार 6 बार खिताब जीतने के बाद भारत का सिलसिला टूट गया था, लेकिन हरमनप्रीत की कप्तानी में भारत ने पिछली सफलता को फिर से दोहराया।

महिला एशिया कप विजेता टीम-

2004 – भारत

2005 – भारत

2006 – भारत

2008 – भारत

2012 – भारत

2016 – भारत

2018 – बांग्लादेश

2022 – भारत

भारतीय ओपनर बल्लेबाज शेफाली वर्मा ने 5 रन पर अपना विकेट गंवा दिया और ये भारत का पहला विकेट था तो वहीं जेमिमा रोड्रिग्ज ने 2 रन पर अपना विकेट गंवाया और वो बोल्ड हो गईं। इसके बाद स्मृति मंधाना के तेज नाबाद अर्धशतकीय पारी और कप्तान हरमनप्रीत कौर की नाबाद 11 रन की पारी के दम पर भारत ने 8.3 ओवर में 2 विकेट पर 71 रन बनाते हुए मैच में जीत दर्ज की। स्मृति मंधाना ने 25 गेंदों का सामना करते हुए 3 छक्के व 6 चौकों की मदद से नाबाद 51 रन की पारी खेली।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी श्रीलंका की शुरुआत अच्छी नहीं रही और उसने 10 रनों के भीतर ही अपने 4 विकेट गंवा दिए। पहले विकेट के रूप में कप्तान अथापथु आउट हुई। उन्हें रेणुका सिंह ने 6 रनों के निजी स्कोर पर रन आउट किया। दूसरे विकेट के रूप में भी 1 रन बनाकर हर्षिता आउट हुई। जब टीम का स्कोर 9 रन था उन्हें रेणुका सिंह ने रिचा घोष के हाथों कैच कराया।

इसी स्कोर पर टीम को दो और झटके लगे। पहले अनुष्का संजीवनी 2 रन बनाकर रन आउट हुई और फिर परेरा बिना कोई खाता खोले रेणुका सिंह की गेंद पर मंधाना को कैच थमा बैठी। इससे पहले की टीम संभलती 16 रन के स्कोर पर रेणुका सिंह ठाकुर ने श्रीलंका को एक और झटका दिया। उन्होंने 1 रन के निजी स्कोर पर कविशा दिलहारी को बोल्ड कर दिया।

छठे विकेट के रूप में निलाक्षी डी सिल्वा को राजेश्वरी गायकवाड़ ने 6 रन के निजी स्कोर पर बोल्ड किया जबकि 7वें विकेट के रूप में मालशा शेहानी आउट हुई। उन्हें स्नेह राणा ने अपनी ही गेंद पर आउट किया। भारत को आठवीं सफलता गायकवाड़ ने दिलाई और उन्होंने ओशादी रणसिंघे को 13 रन पर आउट किया जबकि 9वां विकेट सुगंधिका कुमारी के रूप में गिया और वो 6 रन बनाकर आउट हुईं। इनोका रणवीरा 18 रन बनाकर जबकि अचिनी कुलसुरिया 6 रन बनाकर नाबाद रही। भारत की तरफ से पहली पारी में रेणुका सिंह ने 3 जबकि राजेश्वरी गायकवाड़ और स्नेह राणा ने दो-दो विकेट लिए।

भारत की प्लेइंग इलेवन

शेफाली वर्मा, स्मृति मंधाना, जेमिमा रोड्रिग्स, दयालन हेमलता, हरमनप्रीत कौर (कप्तान), दीप्ति शर्मा, रिचा घोष (विकेट कीपर), पूजा वस्त्रकर, स्नेह राणा, रेणुका सिंह, राजेश्वरी गायकवाड़।

श्रीलंका प्लेइंग इलेवन

चमारी अथापथु (कप्तान), अनुष्का संजीवनी (विकेटकीपर), हर्षिता माडवी, हसीनी परेरा, निलाक्षी डी सिल्वा, कविशा दिलहारी, मालशा शेहानी, ओशादी रणसिंघे, सुगंधिका कुमारी, इनोका रणवीरा, अचिनी कुलसुरिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.